पुतिन को हत्यारा कहने पर भड़के ट्रंप, कहा- ‘अमेरिका में भी बहुत सारे हत्यारे’

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रूसी राष्‍ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन को हत्यारा बताए जाने को दरकिनार करते हुए कहा है कि अमेरिका इतना मासूम नहीं है, यहां पर भी हत्‍यारे हैं। एक चैनल को दिए इंटरव्‍यू में उन्‍होंने रूस को लेकर अपनी बेबाक राय रखी। दरअसल, उन्‍होंने यह बयान उस सवाल के जवाब में दिया था जिसमें इंटरव्यू लेने वाले ने रूसी सरकार पर हत्‍या के संगीन आरोप लगाए थे। उन्‍होंने तमाम हत्‍याओं के आरोपों का हवाला देकर रूसी नेता को हत्यारा बताया था।

पुतिन को हत्यारा कहने पर भड़के डोनाल्ड ट्रंप, कहा- 'अमेरिका में भी बहुत सारे हत्यारे'

बड़ी खबर: अब हर स्मार्टफोन पर मोदी सरकार 1000 रुपए की देगी सब्सिडी

इसके जवाब में ट्रंप ने कहा कि वहां कई हत्यारे हैं। हमारे यहां भी कई हत्यारे हैं। उन्‍होंने सवाल के जवाब में एक सवाल करते हुए इंटरव्‍यू लेने से पूछा कि आपको लगता है कि हमारा देश इतना मासूम है?’ इस इंटरव्‍यू में उन्‍होंने हमारे यहां भी हत्‍यारे मौजूद हैं। हमनें भी पहले कई ग‍लतियां की हैं। उन्‍होंने कहा कि हमारे यहां पर राष्‍ट्रपति का चुनाव और रूस में राष्‍ट्रपति पद के चुनाव में काफी भिन्‍नता है। पुतिन केजीबी एजेंट रह चुके हैं इस लिहाज से भी कई लोग उन पर सवाल उठाते हैं। उन्‍होंने साफ तौर पर कहा कि वह राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन की बहुत इज्‍जत करते हैं। हालांकि यह इंटरव्‍यू अभी प्रसारित नहीं हुआ है।

यह पूछे जाने पर कि सीजफायर उल्‍लंघन करने पर क्‍या अमेरिका रूस के खिलाफ भी प्रतिबंध लगाएगा, उन्‍होंने कहा कि इस सवाल के जवाब के लिए कुछ समय इंतजार करना होगा। वह इसका जवाब देने से पहले यह देखना चाहेंगे कि रूस का रुख क्‍या होता है। इस दौरान उनके द्वारा दिया गया बयान इसलिए भी खासा मायने रखता है क्‍योंकि पिछले दिनों ही दोनों नेताओं ने फोन पर बातचीत की थी। इस दौरान दोनों ही नेता आतंकी संगठन आईएस (इस्‍लामिक स्‍टेट) के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने और उसे खत्‍म करने पर सहमत भी हुए थे।

इस इंटरव्‍यू के दौरान भी उन्‍होंने आईएस और व्‍लादिमीर पुतिन को लेकर उठे कई सवालों का जवाब दिया। उन्‍होंने कहा कि वह पुतिन का सम्‍मान करते हैं लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि वह साथ आएंगे। उन्‍होंने यह भी कहा कि वह पुतिन के साथ-साथ कई लोगों का सम्मान करते हैं, लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि वह उनके साथ जा रहे हैं।

अफगानिस्तान, पाक में हिमस्खलन से भरी तबाही सौ से ज़्यादा की मौत, भारत में अलर्ट जारी

डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा कि वह सब अपने-अपने देश के नेता हैं। रूस के संदर्भ में उन्‍होंने कहा कि रूस के साथ न जाने से बेहतर उसके साथ जाना है। ट्रंप का कहना था कि अगर रूस आईएस और दुनिया भर में इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ जंग में हमारी मदद करता है, जो एक बड़ी लड़ाई है तो ये अच्छी बात है।

You May Also Like

English News