पुलिस एनकाउंटर में मारा गया ढाका कैफे आतंकी हमले का मास्टरमाइंड

ढाका। बीते साल लोकप्रिय गुलशन कैफे पर आतंकी हमले के मास्टरमाइंड आतंकी नुरुल इस्लाम मर्जन सहित दो इस्लामी आतंकी पुलिस एनकाउंटर में मारे गए। पुलिस के अनुसार, बीती रात करीब तीन बजे ढाका के मोहम्मदपुर बेरिबाध इलाके में आतंकियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी की कार्रवाई चल रही थी, जहां उनकी पुलिस से मुठभेड़ हुई।

पुलिस एनकाउंटर में मारा गया ढाका कैफे आतंकी हमले का मास्टरमाइंड

ब्रेकिंग न्यूज़: दुनिया के नक्शे से मिट जाएगा अब पाकिस्तान का नाम….

ढाका मेट्रोपोलिटन पुलिस की सीटीटीसी इकाई के प्रमुख मोनिरूल इस्लाम ने द डेली स्टार से घटना की पुष्टि करते हुये कहा, ‘एक की पहचान मर्जन के रूप में हुई है और दूसरे की अभी तक पहचान नहीं की जा सकी है।’ पुलिस ने बताया कि गुलशंस होले आर्टिजन बेकरी में एक जुलाई को हुए हमले को मरजान ने समन्वित किया था जिसमें एक भारतीय सहित 22 लोग मारे गए थे ।

मोनिरूल ने कहा, ‘एक खुफिया सूचना के आधार पर हमने तड़के तीन बजे छापा मारा, हमारी उपस्थिति महसूस होने पर आतंकवादियों ने हम पर गोली चलाई। हमने जवाबी कार्रवाई की जिसमें वे दोनों लोग घायल हो गए ।’ ढाका मेडिल कॉलेज अस्पताल में उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

चीन ने तोड़ा रिकॉर्ड, बना दिया सबसे ऊंचा ब्रिज!

मारी गई थी भारतीय किशोरी तारिषी जैन

नुरुल इस्लाम मर्जन जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश के लिए काम करता था। 1 जुलाई 2016 को पांच आतंकियों ने गुलशन कैफे पर हमला कर लोगों को बंधक बना लिया था। आतंकी हमले में कुल 29 लोगों की मौत हुई थी, जिसमें ज्यादातर विदेशी थे। उस हमले में एक 19 वर्ष की भारतीय तारिषी जैन की भी मौत हो गई थी।

 

You May Also Like

English News