पुलिस को चकमा देकर ग्वालटोली थाने से दीवार फांदकर दो शातिर फरार

ग्वालटोली थाने में शनिवार भोर पहर पुलिस कर्मियों के होश उस समय उड़ गए जब चोरी के मामले में पकड़े गए दो शातिर चकमा देकर फरार हो गए। पुलिस पहले तो मामले को दबाए रही लेकिन जब बात खुल गई तो लीपापोती में जुटी है। वहीं उच्चाधिकारियों ने भी घटना का संज्ञान लिया है और अधीनस्थों से पूछताछ शुरू की है।

ग्वालटोली थाने में शनिवार भोर पहर पुलिस कर्मियों के होश उस समय उड़ गए जब चोरी के मामले में पकड़े गए दो शातिर चकमा देकर फरार हो गए। पुलिस पहले तो मामले को दबाए रही लेकिन जब बात खुल गई तो लीपापोती में जुटी है। वहीं उच्चाधिकारियों ने भी घटना का संज्ञान लिया है और अधीनस्थों से पूछताछ शुरू की है।  ग्वालटोली थाना क्षेत्र के अंतर्गत परमट निवासी संजय मिश्रा के घर पर 24 अगस्त को चोरी हो गई थी। संजय ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 28 अगस्त को परमट के रहने वाले रोहन के खिलाफ चोरी का मुकदमा दर्ज कराया था, जिसपर पुलिस ने छानबीन शुरू की थी। शुक्रवार को पुलिस ने आरोपित रोहन को हिरासत में लेकर थाने में पूछताछ शुरू की थी। पुलिस सूत्रों के अनुसार उसने बाइक चोरी की भी कुछ वारदातों की जानकारी दी। पूछताछ के बाद पुलिस ने रोहन की निशानदेही पर साथी आफताब को भी हिरासत में लिया था। दोनों से पूछताछ के बाद पुलिस बड़े गुडवर्क की उम्मीद में थी। इस चक्कर में थाने में आरोपितों के बाबत कोई भी लिखा पढ़ी नहीं की। शनिवार भोर पहर लघुशंका करने के बहाने आफताब थाने की दीवार फादकर भाग गया। इसके बाद पुलिस ने रोहन से पूछताछ कर आफताब की तलाश में दबिश देना शुरू किया। इधर शनिवार को समाधान दिवस चल रहा था तो लघुशंका करने के बहाने निकला रोहन भी उसी जगह से भाग निकला। ग्वालटोली थाना इंस्पेक्टर जयप्रकाश पाल ने थाने से किसी भी आरोपित के भागने की घटना से इंकार किया है। उन्होंने कहा कि चोरी के मुकदमे में रोहन की तलाश की जा रही है।

ग्वालटोली थाना क्षेत्र के अंतर्गत परमट निवासी संजय मिश्रा के घर पर 24 अगस्त को चोरी हो गई थी। संजय ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 28 अगस्त को परमट के रहने वाले रोहन के खिलाफ चोरी का मुकदमा दर्ज कराया था, जिसपर पुलिस ने छानबीन शुरू की थी। शुक्रवार को पुलिस ने आरोपित रोहन को हिरासत में लेकर थाने में पूछताछ शुरू की थी। पुलिस सूत्रों के अनुसार उसने बाइक चोरी की भी कुछ वारदातों की जानकारी दी। पूछताछ के बाद पुलिस ने रोहन की निशानदेही पर साथी आफताब को भी हिरासत में लिया था। दोनों से पूछताछ के बाद पुलिस बड़े गुडवर्क की उम्मीद में थी। इस चक्कर में थाने में आरोपितों के बाबत कोई भी लिखा पढ़ी नहीं की। शनिवार भोर पहर लघुशंका करने के बहाने आफताब थाने की दीवार फादकर भाग गया। इसके बाद पुलिस ने रोहन से पूछताछ कर आफताब की तलाश में दबिश देना शुरू किया। इधर शनिवार को समाधान दिवस चल रहा था तो लघुशंका करने के बहाने निकला रोहन भी उसी जगह से भाग निकला। ग्वालटोली थाना इंस्पेक्टर जयप्रकाश पाल ने थाने से किसी भी आरोपित के भागने की घटना से इंकार किया है। उन्होंने कहा कि चोरी के मुकदमे में रोहन की तलाश की जा रही है।

You May Also Like

English News