जब पुलिस हुई फेल, तो हैकर्स ने छेड़ी फेसबुक पर अश्लीलता के खिलाफ जंग

कोच्चि। केरल के साइबर वॉरियर्स ने फेसबुक पर बढ़ रहे ऑनलाइन सेक्स रैकेट्स, साइबर एब्यूस, रीवेंज पॉर्न और चाइल्ड पॉर्न के खिलाफ जंग छेड़ दी है। उन्होंने 59 फेसबुक ग्रुप या पेज की जानकारी जारी की है, जो इंटरनेट पर अश्लील सामग्री फैला रहे हैं।

जब पुलिस हुई फेल, तो हैकर्स ने छेड़ी फेसबुक पर अश्लीलता के खिलाफ जंग

 

शाहरुख की टॉप फिल्मों में ‘रईस’, ने ‘रावन’ को किया बाहर

साइबर वॉरियर्स ने फेसबुक यूजर्स की ओर से ढेरों शिकायतें मिलने के बाद पूरे कॉन्टेंट को डिलीट कर दिया। इसे ‘आपरेशन बिग डैडी’ के रूप में याद किया जा सकता है, जिसे पिछले साल राज्य पुलिस ने ऑनलाइन प्रॉस्टीट्यूशन और साइबर से जुडे सेक्सुअल एब्यूज के मामलों के खिलाफ लॉन्च किया था।

हैकर्स ने दावा किया कि 10 हजार से अधिक ऐसे पेजेस अकेले मलयालम भाषा में सक्रिय हैं। इन्हें बार-बार बंद करने के बावजूद भी ये लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर 28 हैकर्स की एक टीम ने इसकी जानकारी का खुलासा किया।

निजी चैट में हैकर्स ने कहा कि कई पेज में पांच साल तक की बच्चियों की न्यूड तस्वीरें पोस्ट की गई हैं। कई पेज पर रीवेंज-पॉर्न के रूप में लोगों ने पूर्व प्रेमिकाओं की तस्वीरें पोस्ट कर दी हैं। हैकर्स ने पाया कि सेक्स रैकेट के द्वारा विज्ञापनों को प्रमोट किया जा रहा है।

यूपी में रिचार्ज वाले भैया 50 रुपए में बेच रहे है लड़कियों के नंबर

कई अन्य पेजेस में कुछ लोग अपनी लोकेशन, फोन नंबर और ऑनलाइन प्रॉस्टीट्यूशन के रुपयों के बारे में जानकारी दी है। हैकर्स ने दावा कि केरल में रीवेंज-पॉर्न भी तेजी से बढ़ रहा है। जब हम इन ग्रुप्स को हैक कर लेते हैं, तो वही व्यक्ति अपनी पूर्व-प्रेमिका की तस्वीर दूसरे ग्रुप्स में भेजकर एडमिन से रिक्वेस्ट कर रहे हैं कि इसे पोस्ट कर वायरल कर दें।

You May Also Like

English News