पूर्ण राज्य को लेकर अरविन्द केजरीवाल की दिल्ली में हुंकार

अरविन्द केजरीवाल एक बार फिर अपने पुराने रंग में नजर आ रहे है. पूर्वं स्वराज और पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने को लेकर अरविन्द केजरीवाल ने एक बार फिर से मोदी सरकार पर हमला बोला है. रविवार को एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए केजरीवाल ने दिल्ली को अनिल बैजल उपराज्यपाल का गुलाम बताया. अरविन्द केजरीवाल एक बार फिर अपने पुराने रंग में नजर आ रहे है. पूर्वं स्वराज और पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने को लेकर अरविन्द केजरीवाल ने एक बार फिर से मोदी सरकार पर हमला बोला है. रविवार को एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए केजरीवाल ने दिल्ली को अनिल बैजल उपराज्यपाल का गुलाम बताया.   अरविन्द केजरीवाल ने इस बारे में कहा कि "दिल्ली कई वर्षों से बस गुलामी की मार ही झेल रही है. दिल्ली पहले मुगलों की गुलाम थी, उसके बाद दिल्ली पर अंग्रेजों ने अपना हक़ जमाया वहीं अब दिल्ली यहाँ के उपराज्यपाल अनिल बैजल की गुलाम है. अनिल बैजल पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने कहा कि "दिल्ली की जनता के लिए कोई भी अच्छी स्किम लागू करने से पहले अनिल बैजल उस पर रोक लगा देते और फाइल रोक देते है, क्या यह दिल्ली की जनता का अपमान नहीं है?"  वहीं मोहल्ला क्लिनिक के बारे में बात करते हुए केजरीवाल ने कहा कि "आगामी सितम्बर माह में दुनिया के 6 बड़े नेता दिल्ली आ रहे हैं. यूनाइटेड नेशन के पूर्व महासचिव, कॉफी अन्नान, नार्वे के पूर्व प्रधानमंत्री समेत तमाम बड़े नेता मोहल्ला क्लीनिक देखने आ रहे हैं."  अपने पुरे भाषण में केजरीवाल ने उन योजनाओं का भी जिक्र किया है, जो योजनाएं दिल्लीवासियों के भले के लिए थी लेकिन उन योजनाओं पर अनिल बैजल ने रोक लगा दी.

अरविन्द केजरीवाल ने इस बारे में कहा कि “दिल्ली कई वर्षों से बस गुलामी की मार ही झेल रही है. दिल्ली पहले मुगलों की गुलाम थी, उसके बाद दिल्ली पर अंग्रेजों ने अपना हक़ जमाया वहीं अब दिल्ली यहाँ के उपराज्यपाल अनिल बैजल की गुलाम है. अनिल बैजल पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने कहा कि “दिल्ली की जनता के लिए कोई भी अच्छी स्किम लागू करने से पहले अनिल बैजल उस पर रोक लगा देते और फाइल रोक देते है, क्या यह दिल्ली की जनता का अपमान नहीं है?”

वहीं मोहल्ला क्लिनिक के बारे में बात करते हुए केजरीवाल ने कहा कि “आगामी सितम्बर माह में दुनिया के 6 बड़े नेता दिल्ली आ रहे हैं. यूनाइटेड नेशन के पूर्व महासचिव, कॉफी अन्नान, नार्वे के पूर्व प्रधानमंत्री समेत तमाम बड़े नेता मोहल्ला क्लीनिक देखने आ रहे हैं.”  अपने पुरे भाषण में केजरीवाल ने उन योजनाओं का भी जिक्र किया है, जो योजनाएं दिल्लीवासियों के भले के लिए थी लेकिन उन योजनाओं पर अनिल बैजल ने रोक लगा दी. 

You May Also Like

English News