पूर्व डीजी के घर बदमाशों का धावा

पूर्व डीजी के घर बदमाशों का धावालखनऊ। गोमतीनगर के विरतखंड जैसे पॉश इलाके में एक बार फिर बदमाशों ने एक घर पर धावा बोला। इस बार बदमाशों ने हरियाणा के पूर्व डीजी वीरेंद्र सिंह के घर में लूटपाट की कोशिश की। घर में मौजूद नौकर ने बदमाशों की आहट पाकर शोर मचा दिया। खुद को फंसता देख बदमाश वहां से भाग गये। सूचना के काफी देर के बाद भी गोमतीनगर पुलिस मौके पर नहीं पहुँची। अब पुलिस का कहना की घर में चोरी का प्रयास किया गया था।

सीओ गोमतीनगर सत्यसेन यादव ने बताया कि विराटखण्ड इलाके ने हरियाण कैडर के पूर्व डीजी  वीरेन्द सिंह का बंगला है। मौजूदा समय में वह किसी काम से बगलोर गये हुए हैं। घर पर उनका नौकर कैलाश अकेला मौजूद था। बताया जाता है कि शुक्रवार की देर रात कुछ बदमाश चोरी करने के इरादे से घर में कूद गये। बदमाशों ने घर ली लाइट जलायी। घर में खटपट की आवाज़ सून नौकर की आँख खुल गयी। घर की लाइट जलती देख नौकर को कुछ शक हुआ तो वह अपने कमरे से बाहर निकला। कमरे से निलकते ही नौकर की नज़र घर में घुसे बदमाशों पर पड़ गयी। उसने फौरन शोर मचाना शुरू कर दिया। शोर होते ही बदमाश नौकर से धक्का मुक्की करके वहां से भाग खड़े हुए। इसके बाद नौकर ने फोन कर अपने मालिक बो घटना के बारे में बताया । पूर्व डोजी ने पड़ोस में रहने वाले सेवानिवृत्त अधिकारी पदम सिंह को इस बारे में बताया। पदम सिंह ने घटना की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना के बाद भी एसो गोनतीनगर को इतना समय नहीं मिल सका कि वह मौके पर जा सकें । शनिवार की सुबह जब इस घटना के बारे में मीडिया को पता चला तो तुलिस हरकत में आयी और मौके पर पहुंची । घटना को गंमभीरता से लेने के बजाय पुलिस ने इसको महज चोरी का प्रयास बता दिया। इस बारे में सीओ का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है और आरोपियों की तलाश की जा रही है।

 
 
 
 

You May Also Like

English News