पूर्व सांसद डॉ. रामविलास वेदांती ने आजम खान पर ISI एजेंट का लगाया आरोप…

राम जन्मभूमि न्यास समिति के वरिष्ठ सदस्य और फैजाबाद के पूर्व सांसद डॉ. रामविलास वेदांती ने शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान पर आईएसआई का एजेंट होने का आरोप लगाया। डॉ. रामविलास वेदांती ने आजम खान सहित सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील पर भी आरोप लगाए। जानें क्या है पूरा मामला… पूर्व सांसद डॉ. रामविलास वेदांती ने आजम खान पर ISI एजेंट का लगाया आरोप...

अभी-अभी: फिल्ममेकर और रानी मुखर्जी के पिता का हुआ नि‍धन, पूरा बॉलीवुड शोक में डूबा

आजम खान आईएसआई एजेंट हैं – पूर्व सांसद डॉ. रामविलास वेदांती

इटावाः  राम जन्मभूमि न्यास समिति के वरिष्ठ सदस्य और फैजाबाद के पूर्व सांसद डॉ. रामविलास वेदांती ने आरोप लगाते कहा कि समाजवादी पार्टी के मुस्लिम नेता आजम खान आईएसआई एजेंट है। आईएसआई से बड़ी तादाद में आजम खान को धन मिलता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आजम खान के आईएसआई से रिश्तों की तह में जाने के लिए सीबीआई जांच कराएं। ये मांग उन्होंने शनिवार को हिंदू सेवा समिति के एक समारोह में की। उन्होंने कहा कि 6 दिसंबर 2018 से राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि देश का मुसलमान चाहता है कि अयोध्या में भव्य रामलला मंदिर बने। सुन्नी वक्फ बोर्ड और शिया वक्फ बोर्ड के लोग चाहते हैं। केवल 20 प्रतिशत लोग नहीं चाहते और वह ऐसे लोग हैं जो पाकिस्तान से सम्मानित किए जाते हैं। पाकिस्तान लगा हुआ है कि भारत का हिंदू और मुसलमान आपस में इसी तरह से लड़ता और भिड़ता रहे । कहा कि भारत के हिंदू और मुसलमानों को आपस में लड़ाने के लिए पाकिस्तान पैसा भेजता है । 

आजम खां की गहनता से सीबीआई जांच कराई जाए

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सपा के पूर्व मंत्री आजम खान और सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील जफरयाब जिलानी आईएसआई के एजेंट हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मांग है कि आईएसआई से संबंध रखने वाले आजम खां की गहनता से सीबीआई जांच कराई जाए। ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। अगर हकीकत में सीबीआई जांच हो जाए तो पता चल जाएगा कि आतंकवादियों के अड्डे  भारत में कौन चला रहा है।

उत्तर प्रदेश के रामपुर,  मुरादाबाद, संभल, मेरठ, अलीगढ़, शाहजहांपुर में  आतंकवादियों के अड्डे चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का मुसलमान किसी भी सूरत में दंगा नहीं चाहता है। उत्तर प्रदेश का मुसलमान सांप्रदायिक सौहार्द चाहता है। उत्तर प्रदेश का मुसलमान हिंदू भाईचारा चाहता है । अयोध्या बाजार में रामनवमी के मौके पर राम कथा होती है तो वहां पर मुसलमान भी राम कथा सुनने के लिए पहुंचता है।

इससे बड़ा सांम्प्रदायिक सौहार्द की बात और क्या हो सकती है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुनिया के नक्शे पर देश को खड़ा करने की कोशिश में लगे हुए हैं। पड़ोसी पाकिस्तान की मदद से देश के मुस्लिम नेता उनके सपने को तोड़ने की कोशिश में हैं। ऐसे मुसलमानों को पहचानने की जरूरत है।  इससे पहले  हिंदू सेवा समिति के अध्यक्ष प्रदीप शर्मा एवं उनके सहयोगियों ने उनका स्वागत किया। 

You May Also Like

English News