पेट को कूड़ादान समझने वालों . . .

ज़िन्दगी में कई गलतियां ऐसी होती हैं, जिन्हे हम बिना सोचे समझे कर तो देते हैं, लेकिन उसका खामियाज़ा हमें भविष्य में भुगतना पड़ता है. लड़के-लडकियां अक्सर अपने युवावस्था के दौरान ऐसी कई गलतियां कर देते हैं जो उन्हें नहीं करनी चाहिए. उस गलतियों का नतीजा काफी बुरा हो सकता है. और हो सकता है कि आगे जाकर यानी बुढ़ापे में आपको उसपर पछताना पड़ेज़िन्दगी में कई गलतियां ऐसी होती हैं, जिन्हे हम बिना सोचे समझे कर तो देते हैं, लेकिन उसका खामियाज़ा हमें भविष्य में भुगतना पड़ता है. लड़के-लडकियां अक्सर अपने युवावस्था के दौरान ऐसी कई गलतियां कर देते हैं जो उन्हें नहीं करनी चाहिए. उस गलतियों का नतीजा काफी बुरा हो सकता है. और हो सकता है कि आगे जाकर यानी बुढ़ापे में आपको उसपर पछताना पड़े.  यदि आप अपनी फिटनेस पर ध्यान नहीं देते हैं तो यह वाकई बहुत बड़ी समस्या है और चिंता का कारण है. यह अक्सर देखने में आता है कि कई लोग अपने पेट को कूड़ादान बना लेते हैं और जो भी मिलता है उसे खा लेते हैं. उन लोगों की मानसिकता यही रहती है कि आज और खा लेते हैं कल से अपनी फिटनेस पर निरंतर ध्यान देंगे, लेकिन ऐसा होता नहीं है. सुबह होते ही सब कुछ नया-नया लगने लगता है और सब कुछ दिमाग से गायब हो जाता है. कृपया इस बात का ध्यान रखें और ऐसी कोई चीज़ का सेवन ना करें जिससे आगे जाकर आपको किसी समस्या का सामना करना पड़े. यह चीज़ तब तक सही लगती है, जब तक आप जवान हैं. एक समय के बाद जैसी ही आपकी उम्र ढलने लगेगी, आपका शरीर चलता फिरता बीमारियों का घर बन जाएगा..

यदि आप अपनी फिटनेस पर ध्यान नहीं देते हैं तो यह वाकई बहुत बड़ी समस्या है और चिंता का कारण है. यह अक्सर देखने में आता है कि कई लोग अपने पेट को कूड़ादान बना लेते हैं और जो भी मिलता है उसे खा लेते हैं. उन लोगों की मानसिकता यही रहती है कि आज और खा लेते हैं कल से अपनी फिटनेस पर निरंतर ध्यान देंगे, लेकिन ऐसा होता नहीं है. सुबह होते ही सब कुछ नया-नया लगने लगता है और सब कुछ दिमाग से गायब हो जाता है. कृपया इस बात का ध्यान रखें और ऐसी कोई चीज़ का सेवन ना करें जिससे आगे जाकर आपको किसी समस्या का सामना करना पड़े. यह चीज़ तब तक सही लगती है, जब तक आप जवान हैं. एक समय के बाद जैसी ही आपकी उम्र ढलने लगेगी, आपका शरीर चलता फिरता बीमारियों का घर बन जाएगा.

You May Also Like

English News