प्रदेश की मौजूदा कानून व्यवस्था से संतुष्ट नहीं राज्यपाल राम नाईक

राज्यपाल राम नाईक के गुरुवार को एक दिवसीय अमेठी दौरे पर अमेठी पहुंचे। यहां तारापुर गांव स्थित केपीएस स्कूल के वार्षिकोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि बालिकाओं के शिक्षित होने से देश सुदृढ़ होगा। राज्यपाल राम नाईक के गुरुवार को एक दिवसीय अमेठी दौरे पर अमेठी पहुंचे। यहां तारापुर गांव स्थित केपीएस स्कूल के वार्षिकोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि बालिकाओं के शिक्षित होने से देश सुदृढ़ होगा।  यूपी में इन दिनों बालिकाओं की शिक्षा बालकों की अपेक्षा ज्यादा होना शुभ संकेत है। इससे देश आगे बढ़ेगा। महिलाओं को नौकरियों में अवसर देने के मुद्दे पर बोले कि पहले महिलाओं को सिर्फ शिक्षक व नर्स की नौकरी मिलती थी, लेकिन आज महिलाएं सेना, पुलिस, वायु सेना जैसे चुनौती पूर्ण पेशों का भी प्रतिनिधित्व कर रही हैं।  इन दौरान उन्होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था में सुधार लाने की आवश्यकता महसूस की। अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर को लेकर मचे घमासान पर राज्यपाल ने कहा कि इस मसले पर राष्ट्रपति दखल दे चुके हैं इसलिए इस पर कुछ बोलना उचित नहीं होगा।  कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए राज्यपाल अपराह्न 01:35 बजे खेरौना स्थित हैलीपैड पर उतरे। यहां से वह सीधे स्कूल के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे और बच्चों को पुरस्कृत किया। राज्यपाल के आगमन को लेकर बुधवार से ही जिले की सुरक्षा व्यवस्था के लिए विशेष इंतजाम किए गए थे। हैलीपैड से लेकर कार्यक्रम स्थल तक 11 मजिस्ट्रेट के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था।

 

यूपी में इन दिनों बालिकाओं की शिक्षा बालकों की अपेक्षा ज्यादा होना शुभ संकेत है। इससे देश आगे बढ़ेगा। महिलाओं को नौकरियों में अवसर देने के मुद्दे पर बोले कि पहले महिलाओं को सिर्फ शिक्षक व नर्स की नौकरी मिलती थी, लेकिन आज महिलाएं सेना, पुलिस, वायु सेना जैसे चुनौती पूर्ण पेशों का भी प्रतिनिधित्व कर रही हैं।

इन दौरान उन्होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था में सुधार लाने की आवश्यकता महसूस की। अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर को लेकर मचे घमासान पर राज्यपाल ने कहा कि इस मसले पर राष्ट्रपति दखल दे चुके हैं इसलिए इस पर कुछ बोलना उचित नहीं होगा।

कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए राज्यपाल अपराह्न 01:35 बजे खेरौना स्थित हैलीपैड पर उतरे। यहां से वह सीधे स्कूल के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे और बच्चों को पुरस्कृत किया। राज्यपाल के आगमन को लेकर बुधवार से ही जिले की सुरक्षा व्यवस्था के लिए विशेष इंतजाम किए गए थे। हैलीपैड से लेकर कार्यक्रम स्थल तक 11 मजिस्ट्रेट के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। 

 
 

You May Also Like

English News