प्रद्युम्न की याद में अभिभावक संघों के कई सदस्य ने रामलीला मैदान में किया कैंडल मार्च….

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में मासूम प्रद्युम्न की हत्या के विरोध में रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में कैंडल लाइट मार्च निकाला गया. पहले यह कैंडल मार्च इंडिया गेट पर होने वाला था लेकिन पुलिस की अनुमति नहीं मिलने पर मार्च रामलीला मैदान में निकाला गया. सात साल के प्रद्युम्न को श्रद्धांजलि देने के लिए अभिभावक संघों के कई सदस्य और आम लोग जुटे.प्रद्युम्न की याद में अभिभावक संघों के कई सदस्य ने रामलीला मैदान में किया कैंडल मार्च....#बड़ी खबर: SC में आधार और आर्टिकल 35A जैसे मामले पर होगी आज सुनवाई….

इस मौके पर प्रद्युम्न के पिता वरुण सिंह ठाकुर ने कहा, ‘यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है और हम इसकी निंदा करते हैं कि गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस ने इंडिया गेट पर कैंडल लाइट मार्च की अनुमति देने से इनकार कर दिया और उनका यह प्रयास बच्चों की सुरक्षा को लेकर देशभर में उमड़ी भावनाओं को दबाने की कोशिश है.’ इस कैंडल लाइट मार्च का आयोजन वरुण ठाकुर के नवगठित प्रद्युम्न फाउंडेशन की ओर से किया गया था.

प्रद्युम्न की मां ज्योति ठाकुर ने कहा, ‘एक मां बहुत आशा के साथ अपने बच्चे को स्कूल भेजती है, लेकिन अब हर मां के मन में डर घरकर गया है, क्योंकि मैंने अपने जिगर के तुकड़े को खोया है.’ ज्योति ने अपने बेटे के लिए इंसाफ की गुहार लगाई और कहा कि देशभर के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित होनी चाहिए.     

कोर्ट में प्रद्युम्न का केस लड़ रहे वकील सुशील के टेकरीवाल ने कहा कि स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा अहम मसला है और इसे लेकर सरकार को ठोक कदम उठाने चाहिए. साथ ही उन्होंने सरकारी तंत्र पर निशाना साधते हुए कहा कहा कि अब तक किसी भी सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया क्योंकि बच्चे राजनीतिक दलों के लिए वोट बैंक नहीं होते.

बीते आठ सिंतबर को गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में कक्षा दो के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की स्कूल परिसर में ही हत्या कर दी गई थी. पुलिस ने इस मामले में हत्या के आरोपी और स्कूल बस कंडक्टर अशोक को गिरफ्तार किया है. मामले की जांच सुप्रीम जांच एजेंसी सीबीआई कर रही है.

loading...

You May Also Like

English News