प्रवासियों को ट्रम्प ने जानवर कहा

अमेरिका के प्रवासी कानूनों को बेकार बताते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उसकी आलोचना की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ अवैध प्रवासियों की तुलना गुरुवार को जानवर से की और कहा कि केवल योग्यता के आधार पर लोगों को अमेरिका में शरण देनी चाहिए. मैक्सिको और कैलिफोर्निया के अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए ट्रंप ने अमेरिका के कमजोर प्रवासी कानूनों को मजबूत करने का आह्वान किया. अमेरिका के प्रवासी कानूनों को बेकार बताते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उसकी आलोचना की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ अवैध प्रवासियों की तुलना गुरुवार को जानवर से की और कहा कि केवल योग्यता के आधार पर लोगों को अमेरिका में शरण देनी चाहिए. मैक्सिको और कैलिफोर्निया के अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए ट्रंप ने अमेरिका के कमजोर प्रवासी कानूनों को मजबूत करने का आह्वान किया.   ट्रम्प ने कहा, हम उन लोगों को एक स्तर तक देश से बाहर ले जा रहे हैं और इतनी संख्या में बाहर ले जा रहे हैं जो पहले कभी नहीं हुआ. इन कमजोर कानूनों के कारण वे तेजी से देश के अंदर आ रहे हैं, हम उन्हें छोड़ रहे हैं और वे दोबारा आ रहे हैं.  इसके आगे राष्ट्रपति ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कैलिफोर्निया सैंक्चुरी स्टेट राउंडटेबल के दौरान कहा, हमारे देश में लोग आ रहे हैं या आने की कोशिश कर रहे हैं. हम उनमें से बहुतों को रोक रहे हैं. आप यकीन नहीं करेंगे कि ये लोग कितने बुरे हैं, ये आदमी नहीं बल्कि जानवर हैं. गौरतलब है कि ट्रंप ने देश में बड़ी संख्या में अवैध प्रवासियों के आने के लिए देश के बेकार कानूनों को जिम्मेदार ठहराया.

ट्रम्प ने कहा, हम उन लोगों को एक स्तर तक देश से बाहर ले जा रहे हैं और इतनी संख्या में बाहर ले जा रहे हैं जो पहले कभी नहीं हुआ. इन कमजोर कानूनों के कारण वे तेजी से देश के अंदर आ रहे हैं, हम उन्हें छोड़ रहे हैं और वे दोबारा आ रहे हैं.

इसके आगे राष्ट्रपति ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कैलिफोर्निया सैंक्चुरी स्टेट राउंडटेबल के दौरान कहा, हमारे देश में लोग आ रहे हैं या आने की कोशिश कर रहे हैं. हम उनमें से बहुतों को रोक रहे हैं. आप यकीन नहीं करेंगे कि ये लोग कितने बुरे हैं, ये आदमी नहीं बल्कि जानवर हैं. गौरतलब है कि ट्रंप ने देश में बड़ी संख्या में अवैध प्रवासियों के आने के लिए देश के बेकार कानूनों को जिम्मेदार ठहराया. 

You May Also Like

English News