प्रिंस चार्ल्स होंगे कॉमनवेल्थ देशों के अगले प्रमुख

 लंदन में हुई कॉमनवेल्थ देशों की बैठक में कॉमनवेल्थ देशों के अगले प्रमुख के नाम की घोषणा की गई, महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय के बाद ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स कॉमनवेल्थ चीफ के पद पर आसीन होंगे. शुक्रवार को हुई इस बैठक में कॉमनवेल्थ देशों का शासनाध्यक्ष संगठन अगले प्रमुख के रूप में प्रिंस चार्ल्स के समर्थन में सहमत हो गए.लंदन: लंदन में हुई कॉमनवेल्थ देशों की बैठक में कॉमनवेल्थ देशों के अगले प्रमुख के नाम की घोषणा की गई, महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय के बाद ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स कॉमनवेल्थ चीफ के पद पर आसीन होंगे. शुक्रवार को हुई इस बैठक में कॉमनवेल्थ देशों का शासनाध्यक्ष संगठन अगले प्रमुख के रूप में प्रिंस चार्ल्स के समर्थन में सहमत हो गए.  गौरतलब है कि एक दिन पहले ही महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने कहा था कि उनकी हार्दिक इच्छा है कि उनका बेटा आगे चल कर उनकी भूमिका निभाए. स्थानीय मीडिया के अनुसार विंडसर कासल में कॉमनवेल्थ देशों के शासनाध्यक्षों की बैठक (CHOGM) रीट्रीट में संगठन के नेता 69 वर्षीय प्रिंस चार्ल्स को इसका अगला चीफ बनाने के लिए सहमत हुए हैं.  भारत के एक सीनियर ऑफिसर ने बताया, "अगले चीफ के रूप में प्रिंस चार्ल्स के नाम पर भारत को कोई आपत्ति नहीं है क्योंकि उन्होंने इस संगठन के लिए कड़ी मेहनत की है. हालांकि, हम इस बारे में साफ़ हैं कि इस पद को संस्थागत नहीं किया जाना चाहिए." आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस बैठक में शिरकत करने के लिए लंदन गए थे, जिसको लेकर संभावनाएं जताई जा रही थी कि ब्रिटेन कि महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय, कॉमनवेल्थ प्रमुख का अपना पद पीएम मोदी को सौंप सकतीं हैं, किन्तु शुक्रवार को प्रिंस के नाम के ऐलान के बाद, इस तरह की अटकलों पर विराम लग गया.

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने कहा था कि उनकी हार्दिक इच्छा है कि उनका बेटा आगे चल कर उनकी भूमिका निभाए. स्थानीय मीडिया के अनुसार विंडसर कासल में कॉमनवेल्थ देशों के शासनाध्यक्षों की बैठक (CHOGM) रीट्रीट में संगठन के नेता 69 वर्षीय प्रिंस चार्ल्स को इसका अगला चीफ बनाने के लिए सहमत हुए हैं.

भारत के एक सीनियर ऑफिसर ने बताया, “अगले चीफ के रूप में प्रिंस चार्ल्स के नाम पर भारत को कोई आपत्ति नहीं है क्योंकि उन्होंने इस संगठन के लिए कड़ी मेहनत की है. हालांकि, हम इस बारे में साफ़ हैं कि इस पद को संस्थागत नहीं किया जाना चाहिए.” आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस बैठक में शिरकत करने के लिए लंदन गए थे, जिसको लेकर संभावनाएं जताई जा रही थी कि ब्रिटेन कि महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय, कॉमनवेल्थ प्रमुख का अपना पद पीएम मोदी को सौंप सकतीं हैं, किन्तु शुक्रवार को प्रिंस के नाम के ऐलान के बाद, इस तरह की अटकलों पर विराम लग गया. 

You May Also Like

English News