प्रैंक शो की शूटिंग के नाम पर हायर कर कराई गई थी किम जोंग-नाम की हत्या

उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग-उन के सौतेले भाई किम जोंग-नाम की हत्या मामले में नया मोड़ आ गया है. हत्या के पीछे उत्तर कोरिया के तानाशाह के हाथ होने की बात सामने आई है. दिलचस्प बात यह है कि किम जोंग-नाम की हत्या कराने के लिए आरोपी महिला सिती आसिया को प्रैंक शो की शूटिंग करने के नाम पर हायर किया गया था, जिसकी जानकारी उसको खुद ही नहीं थी.प्रैंक शो की शूटिंग के नाम पर हायर कर कराई गई थी किम जोंग-नाम की हत्याडोनाल्ड ट्रम्प ने कहा- आईएस के पूरे सफाये तक हमारी लड़ाई जारी रहेगी

मामले में आरोपी दो महिलाओं में से एक के वकील ने दावा किया है कि उसको एक जापानी यूट्यूब प्रैंक रियलिटी शो में हिस्सा ने लेने के लिए हायर किया गया था. इस जापानी शो के नाम पर उसको हायर करने वाले ने मेहनताना भी दिया था. मामले की जांच कर रहे अधिकारी ने बताया कि सिती आसिया का एक उत्तर कोरियाई एजेंट से परिचय जेम्स के रूप में हुआ था.

उन्होंने बताया कि किम जोंग-नाम की हत्या से पहले आसिया इस उत्तर कोरिया  के जासूस से एक महीने पहले ही मिली थी. हालांकि बाद में इस जासूस की पहचान री जी-यू के रूप में हुई. यह उत्तर कोरियाई एजेंट इस हत्या मामले में वांटेड भी है. सिती आसिया से री जी-यू की मुलाकात किम जोंग-नाम की हत्या के एक महीने पहले होने से यह बात साफ होती है कि इस वारदात के पीछे उत्तर कोरियाई तानाशाह का हाथ था. 

इससे पहले भी इस हत्या के पीछे किम जोंग-उन के हाथ होने की आशंका जाहिर की गई थी. इंडोनेशियाई सिती आसिया के वकील ने बताया कि वह प्रैंक शो की शूटिंग करने के लिए मलेशिया के कुआलालंपुर एयरपोर्ट में खड़े किम जोंग-नाम के मुंह पर जहर लगाकर भाग गई थी. हालांकि आसिया को इस बात की जानकारी नहीं थी कि वह किम जोंग-नाम के चेहरे पर जहर रगड़ रही है. इस प्रैंक शो के लिए उसको करीब साढ़े छह हजार रुपये का भुगतान भी किया गया था. हालांकि अगर मामले में सिति आसियाह को दोषी पाया जाता है, तो उसको सजा-ए-मौत दी जाएगी.

You May Also Like

English News