प्रो कबड्डी लीग: 6 खिलाड़ी बने करोड़पति, मोनू गोयात को 1.51 करोड़

प्रो कबड्डी लीग की बोली के पहले दिन छह खिलाड़ियों ने एक करोड़ रुपये को पार कर इतिहास रच दिया. मोनू गोयात पर हरियाणा स्टीलर्स ने सबसे अधिक 1.51 करोड़ रुपये की बोली लगाई.प्रो कबड्डी लीग की बोली के पहले दिन छह खिलाड़ियों ने एक करोड़ रुपये को पार कर इतिहास रच दिया. मोनू गोयात पर हरियाणा स्टीलर्स ने सबसे अधिक 1.51 करोड़ रुपये की बोली लगाई.  ईरान के फजल अत्राचली प्रो कबड्डी लीग की बोली में एक करोड़ की रकम पाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए जिन्हें 'यू मुंबा' ने अपनी टीम के साथ जोड़ा.  इस डिफेंडर का बेस प्राइज 20 लाख रुपये था, लेकिन यू मुंबा ने इस खिलाड़ी को खरीदने की जुगत में  एक करोड़ रुपये खर्च कर दिए.  वहीं दीपक हुड्डा प्रो कबड्डी लीग के इतिहास में करोड़पति ग्रुप में शामिल होने वाले पहले भारतीय बन गए हैं. जयपुर पिंक पैन्थर्स ने उन्हें 1.15 करोड़ रुपये में खरीदा.  प्रो-कबड्डी लीग: पटना ने गुजरात को हराकर लगाई खिताबी हैट्रिक  राहुल चौधरी पर दूसरी सर्वाधिक बोली दिल्ली ने लगाई गई, लेकिन तेलेगु टाइटन्स ने ‘फाइनल बिड मैच’ के जरिए उन्हें 1.29 करोड़ रुपये में खरीद लिया. जांग कुन ली को बंगाल वॉरियर्स ने 33 लाख में खरीदा.  ईरान के फजल अत्राचली पर भारी भरकम रकम खर्च करने के बाद 'यू मुंबा' के मालिक रोनी स्क्रूवाला ने कहा, ‘हम अपनी रक्षापंक्ति मजबूत करना चाहते थे. हमारी टीम की रक्षापंक्ति पहले और दूसरे सत्र में काफी मजबूत थी इसलिए हमने अत्राचली के लिए बोली लगाई. वह हमारे साथ पहले खेल चुके हैं और हम उन्हें फिर से टीम में शामिल कर खुश है.’  अत्राचली ने कहा कि वह अपने दूसरे घर ‘यू मुंबा’ लौट कर काफी खुश है. उन्होंने कहा, ‘यू मुंबा के लिए मेरे मन में काफी सम्मान है क्योंकि पीकेएल में मेरा सफर वहीं से शुरू हुआ है. मैंने प्रो कबड्डी में सबसे ज्यादा बोली का रिकॉर्ड बनाया है, जो वास्तव में एक अविश्वसनीय अनुभूति है.

ईरान के फजल अत्राचली प्रो कबड्डी लीग की बोली में एक करोड़ की रकम पाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए जिन्हें ‘यू मुंबा’ ने अपनी टीम के साथ जोड़ा.

इस डिफेंडर का बेस प्राइज 20 लाख रुपये था, लेकिन यू मुंबा ने इस खिलाड़ी को खरीदने की जुगत में  एक करोड़ रुपये खर्च कर दिए.

वहीं दीपक हुड्डा प्रो कबड्डी लीग के इतिहास में करोड़पति ग्रुप में शामिल होने वाले पहले भारतीय बन गए हैं. जयपुर पिंक पैन्थर्स ने उन्हें 1.15 करोड़ रुपये में खरीदा.

राहुल चौधरी पर दूसरी सर्वाधिक बोली दिल्ली ने लगाई गई, लेकिन तेलेगु टाइटन्स ने ‘फाइनल बिड मैच’ के जरिए उन्हें 1.29 करोड़ रुपये में खरीद लिया. जांग कुन ली को बंगाल वॉरियर्स ने 33 लाख में खरीदा.

ईरान के फजल अत्राचली पर भारी भरकम रकम खर्च करने के बाद ‘यू मुंबा’ के मालिक रोनी स्क्रूवाला ने कहा, ‘हम अपनी रक्षापंक्ति मजबूत करना चाहते थे. हमारी टीम की रक्षापंक्ति पहले और दूसरे सत्र में काफी मजबूत थी इसलिए हमने अत्राचली के लिए बोली लगाई. वह हमारे साथ पहले खेल चुके हैं और हम उन्हें फिर से टीम में शामिल कर खुश है.’

अत्राचली ने कहा कि वह अपने दूसरे घर ‘यू मुंबा’ लौट कर काफी खुश है. उन्होंने कहा, ‘यू मुंबा के लिए मेरे मन में काफी सम्मान है क्योंकि पीकेएल में मेरा सफर वहीं से शुरू हुआ है. मैंने प्रो कबड्डी में सबसे ज्यादा बोली का रिकॉर्ड बनाया है, जो वास्तव में एक अविश्वसनीय अनुभूति है.

You May Also Like

English News