फाउंडेशन लगाती हैं तो इन बातों का भी रखिए ख्याल

फाउंडेशन का मतलब चाहे पुरुषों के लिए नींव होता होगा लेकिन महिलाओं के लिए तो फाउंडेशन ऐसी चीज है जिसके बिना उनका श्रंगार शुरू ही नहीं हो सकता। फाउंडेशन अमूमन हर महिला इस्तेमाल में लेती है लेकिन उन्हें नहीं पता होता की वो इसका इस्तेमाल सही तरीके से कर रही हैं या नहीं। आज आपको फाउंडेशन के सही उपयोग के बारे में कुछ जानकारी देते हैं.

शराब के नशे में बेसुध हुईं महिलाएं, हुआ, ये हाल

अगर आपकी स्किन फाउंडेशन लगाने के कुछ घंटों के बाद सुस्त और लाल लगती है तो यह आपकी गलती नहीं हो सकती। हो सकता है कि आप गलत प्रकार का फाउंडेशन लगा रही हो. ऑफर आपकी स्किन ड्राय है तो मैट फाउंडेशन लगाने के कुछ घंटों के बाद आपकी स्किन डल नजर आ सकती है जबकि ऑयली स्किन पर चमकदार फाउंडेशन लगाकर आपका चेहरा और ज्यादा तैलीय लगने लगेगा। इसलिए हमेशा अपनी स्किन के हिसाब से ही फाउंडेशन लगाना चाहिए।

यदि आप फाउंडेशन लगाने के बाद पूरे दिन में आपके फाउंडेशन पर अजीब, ऊबड़, असमान परतें बनना शुरू हो जाती हैं चिंता न करें क्यूंकि आपके चेहरे में कुछ भी गलत नहीं है. यह समस्या मृत त्वचा कोशिकाओं के निर्माण के कारण होती है और यह हर किसी के साथ होता है. रोजाना अपने चेहरे पर एक्सफोलिएंट्स का इस्तेमाल करने से आपकी यह समस्या भी जल्दी दूर हो जाएगी।

बहुत सी महिलाएं प्राइमर लगाना पसन्द नहीं करती क्यूंकि एक तो यह काफी महंगा होता है और दूसरा वो सोचती हैं की इसकी ज्यादा जरुरत नहीं होती। लेकिन प्राइमर यह सुनिश्चित करता है कि आपका मेकअप तब तक टिका रहे जब तक आप इसे ठीके रहने देना चाहती है और यह आपकी स्किन के लिए भी काफी अच्छा होता है.

अगर आप यह सोचती हैं कि फाउंडेशन लगाने के बाद आपकी स्किन सूरज की हानिकारक किरणों से सुरक्षित रहेगी तो आपकी सोच गलत है क्यूंकि ऐसा तब तक नहीं होगा जब तक आप एसपीएफ युक्त फाउंडेशन या प्राइमर नहीं लगाएंगी। उचित एसपीएफ वाले फाउंडेशन से ही सूरज की ख़राब किरणों से बचा जा सकता है.

You May Also Like

English News