फिर दिखेगी चीन-पाकिस्तान की दोस्ती, स्वतंत्रता दिवस में हिस्सा लेंगे चीनी उपप्रधानमंत्री

एक तरफ भारत और चीन के बीच लगातार विवाद बढ़ रहा है वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान और चीन में दोस्ती लगातार बढ़ रही है. चीन के उप प्रधानमंत्री वांग यांग पाकिस्तान के 70वें स्वतंत्रता दिवस में शामिल होंगे. वांग यांग का यह दौरा दो दिन का होगा, इस दौरान वो वहां पर फ्लैग हॉस्टिंग में हिस्सा लेंगे.

फिर दिखेगी चीन-पाकिस्तान की दोस्ती, स्वतंत्रता दिवस में हिस्सा लेंगे चीनी उपप्रधानमंत्री

वांग यांग रविवार को पाकिस्तान पहुंचे, उन्हें पाकिस्तान के कई अफसरों ने बेनज़ीर भुट्टो एयरपोर्ट से रिसीव किया. वांग यांग यहां राष्ट्रपति ममनून हुसैन, प्रधानमंत्री शाहिद खक्कान अब्बासी के अलावा पाकिस्तानी सेना के चीफ जावेद बाजवा और विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ से मुलाकात करेंगे.

एक बयान में कहा गया कि यह पाकिस्तान और चीन की दोस्ती में एक ऐतिहासिक कदम है. वांग यांग पाकिस्तान में CPEC के कई प्रोजेक्ट की शुरुआत करेंगे. चीनी उप प्रधानमंत्री यहां पर कई नए समझौतों पर भी मुहर लगा सकते हैं. इससे पहले मार्च 2017 में चीनी सेना ने पाकिस्तान दिवस के दौरान परेड में हिस्सा लिया था. परेड में चीनी सेना की तीनों टुकड़ियों ने हिस्सा लिया था.

पाक पीएम का संदेश

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खक्कान अब्बासी ने कहा कि साउथ एशिया में कुछ मुद्दों के कारण काफी नुकसान हुआ है. जब तक ये मुद्दे नहीं सुलझ जाते हैं, तब तक इस क्षेत्र में शांति और तरक्की नहीं हो सकती है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान हर देश के साथ दोस्ती चाहता है. उन्होंने कहा कि हम अपने पड़ोसियों के साथ भी समानता के आधार पर दोस्ती चाहते हैं. इस क्षेत्र में सयुंक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के द्वारा शांति स्थापित होनी चाहिए. 

बाजवा ने फहराया झंडा 

पाकिस्तान अपना 70वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है. इस मौके पर पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने आधी रात को 12 बजे वाघा-अटारी सीमा के पास अपना झंडा फहराया. कहा जा रहा है कि यह ध्वज साउथ एशिया का अभी तक का सबसे बड़ा और दुनिया का आठवां सबसे बड़ा झंडा है. इसकी लंबाई 120 फीट और चौड़ाई 80 फीट है.

इस मौके पर बाजवा बोले कि मैं आपको आश्वसान देता हूं कि हम आपको कभी निराश नहीं करेंगे. ऐसी कोई भी शक्ति जिसका लक्ष्य पाकिस्तान, सेना तथा अन्य संस्थानों को कमजोर करना है, उनके प्रयासों को विफल किया जाएगा.

You May Also Like

English News