फुटबॉल के इतिहास में अमर हो गया 18 साल का यह भारतीय लड़का!

18 साल के युवा भारतीय फुटबॉलर ईशान पंडित ने इतिहास में जगह बना ली है। ईशांन स्पैनिश फुटबॉल लीग ‘ला लीगा’ द्वारा साइन किए गए पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। उन्हें ला लीगा की सीडी लेगानेस ने साइन किया है। अभी लेगानास ला लीगा में 11वें स्थान पर चल रही है।
 
ईशान अंडर-19 टीम का हिस्सा होंगे जो डिवीज़न ऑन डी जुवेनाइल में खेलती है। ये अंडर 19 प्लेयर्स का टॉप डिवीजन है। इसका मतलब होगा कि वो बार्सिलोना और रियाल मैड्रिड के खिलाफ भी खेलते हुए नजर आएंगे।

एक इंटरव्यू में ईशान ने कहा, “मैंने इससे पहले गेटाफे की जूनियर टीम के लिए ट्रायल दिया था, लेकिन उनकी वहां बात नहीं बन पाई। मैं ला लीगा क्लब के लिए खेलना चाहता था रेगुलर टीम का हिस्सा बनने पर मुझे ज्यादा खुशी मिलेगी। मेरा एक ही गोल है कि इस सीज़न के आखिर तक सीनियर टीम में जगह बनानी है। मैं अभी यूथ टीम में जगह बनाने पर ध्यान लगाउंगा।”

‘यह सिर्फ मेरे सपने की शुरुआत है’

बार्सिलोना और रियाल मैड्रिड जैसी टीम के युवा खिलाड़ियों के साथ खेलने को लेकर ईशान ने कहा, “मैं किसी भी प्रतिद्वंदी से नहीं डरता। मैं उनकी काबिलियत का सम्मान करता है और मानता हूं कि उन्हें चैलेंज किया जा सकता है। मलागा जैसे टीम को हराना काफी मुश्किल होगा।”

जिस लीग के लिए इशान को साइन किया गया है और शुरु हो चुकी है। मलागा की टीम इसकी डिफैंडिंग चैंपियन है। लीग के बारे में ईशान ने कहा, “इस लीग में कम्पीटिशन काफी तगड़ा होगा। कोई भी टीम किसी भी टीम को हरा सकती है। मैं यहां रहकर ज्यादा से ज्यादा सीखने की कोशिश करुंगा।

ईशान पंडित साल 2009 में फिलीपिंस से बैंगुलरु आए थे, जिसके बाद वो स्पेन शिफ्ट हो गए। उन्होंने वहां जाते ही अलमीरिया यूथ सिस्टम में अपना खास जगह बनाई। ईशान ने कहा कि मेरे लिए सपनों की शुरुआत अभी हुई हैं।

सम्बंधित खबरें :

You May Also Like

English News