फ्लाईओवर से टकराया तेज रफ्तार जुगाड़ ठेला, 2 दो युवकों की दर्दनाक मौत

गीता कॉलोनी इलाके में रविवार शाम जुगाड़ ठेले (सामान ढोने वाला इंजन लगा रिक्शा) पर बैठे दो युवक फ्लाईओवर से नीचे गिर गए। करीब 25 फुट नीचे सड़क पर गिरने से दोनों युवक बुरी तरह जख्मी हो गए।
 

घायलों को नजदीकी स्वामी दयानंद अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां दोनों को मृत घोषित कर दिया गया। मृतकों की शिनाख्त मोंटू (20) और शमशाद (24) के रूप में हुई है।
 

रफ्तार अधिक होने से चालक अपना नियंत्रण खो बैठा और ठेला फ्लाईओवर की रेलिंग से टकराते ही दोनों युवक सामान समेत नीचे गिर गए। गीता कॉलोनी थाना पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिए हैं।
 

रफ्तार अधिक होने से चालक अपना नियंत्रण खो बैठा और ठेला फ्लाईओवर की रेलिंग से टकराते ही दोनों युवक सामान समेत नीचे गिर गए। गीता कॉलोनी थाना पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिए हैं।
 

रविवार शाम को दोनों जुगाड़ ठेले से जींस बनाने का सामान लेकर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन जा रहे थे। जुगाड़ ठेले को राजू नामक युवक चला रहा था।
 

दोनों सामान अनलोडिंग के लिए राजू के साथ जा रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि ठेला की रफ्तार काफी तेज था। पुलिस ने जुगाड़ ठेला कब्जे में लेकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस राजू से पूछताछ कर रही है। 

यूटर्न बना घातक
हादसे के बाद घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जुट गई। इस कारण पुश्ता रोड पर दोनों तरह वाहनों की कतारें लग गईं। पुलिस ने जब तक दोनों युवकों को अस्पताल नहीं पहुंचाया, तब तक भीड़ जमा रही। (फोटो मेंः मोंटू)

एक अधिकारी ने बताया कि जिस जगह हादसा हुआ, वहां अक्सर हादसे होते रहते हैं। फ्लाईओवर पर एकदम बेहद शॉर्ट यूटर्न है। ऐसे में रफ्तार अधिक होने के कारण लोग वाहनों से अपना नियंत्रण खो देते हैं। (फोटो मेंः शमशाद)
 
 

You May Also Like

English News