‘बचा लो मुझे, पिता से जान को खतरा है’, कहते हुए नेशनल प्लेयर ने सुनाई आपबीती

पिता जबरन शादी कराना चाहते हैं, बचा लो मुझे। मेरी जान को खतरा है, कहते हुए नेशनल कबड्डी प्लेयर रो पड़ी और परिवार के खिलाफ बगावत पर उतर आई। मामला हरियाणा के रोहतक का है। कबड्डी खिलाड़ी प्रीति ने अपने परिवार के खिलाफ शिकायत दी है।'बचा लो मुझे, पिता से जान को खतरा है', कहते हुए नेशनल प्लेयर ने सुनाई आपबीतीखिलाड़ी ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से लेकर महिला आयोग और डीजीपी को पत्र लिखकर गुहार लगाई है कि वे उसे बचा लें। पढ़ाई करते हुए वह खेल में इंटरनेशनल स्तर तक पहुंचकर देश व प्रदेश का नाम रोशन करना चाहती है। लेकिन पिता उसकी शादी उससे ज्यादा उम्र के शख्स से कराना चाहते हैं।

वहीं सारा मामला जानने के बाद महिला आयोग ने खिलाड़ी को आश्वासन दिया है कि वे उसे इंसाफ दिलाएंगे।

प्रीति ने शिकायत में यह जानकारी दी

सीएम और महिला आयोग को दी शिकायत में प्रीति ने बताया कि प्रीति वह नेशनल स्तर पर कबड्डी खेल चुकी है। स्टेट चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन कर चुकी है और फेडरेशन की ओर से भी खेल चुकी हैं। वह पानीपत के महावटी गांव की रहने वाली है, लेकिन उसका परिवार पिछले चार साल से करनाल में रहता है।

वह रोहतक के वैश्य कॉलेज से बीए कर रही हैं। लेकिन सितंबर 2017 में उसके पिता रोहतक आए और उसे अपने साथ करनाल ले गए। यहां उन्होंने उम्र में कहीं ज्यादा बड़े शख्स से उसका रिश्ता तय कर दिया। विरोध किया तो उन्होंने उसे कमरे में बंद कर दिया। किसी तरह वहां से निकलकर वह रोहतक आ गई।

यहां वह किसी रिश्तेदार के यहां रह रही है और रोज रास्ते बदल-बदलकर कॉलेज और प्रैक्टिस के लिए जाती है। प्रीति ने बताया कि कुछ दिन पहले पिता फिर कुछ लोगों के साथ रोहतक आए और उसे लेकर जाने लगे, पर वह किसी तरह बच निकली। अब उसे अपने पिता से जान का खतरा है। 

You May Also Like

English News