बजट के बाद सदमे में शेयर बाजार, निवेशकों को हुआ 5 लाख करोड़ का नुकसान

आम बजट में लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स पर टैक्स लगाए जाने से शेयर बाजार में गिरावट का दौर शुरू हो गया है. बजट के बाद शेयर बाजार ने जनवरी महीने में जो रफ्तार पकड़ी थी, वह इस महीने की शुरुआत में ही धड़ाम हो गई है. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में शुक्रवार को आई गिरावट से सभी लिस्टेड कंपनियों का मार्केट शेयर 4.7 लाख करोड़ गिरकर 148.4 लाख करोड़ तक लुढ़क गया है. इससे बाजार को लगभग पांच लाख करोड़ का नुकसान हुआ है.बजट के बाद सदमे में शेयर बाजार, निवेशकों को हुआ 5 लाख करोड़ का नुकसान

एलटीसीजी पर टैक्स लगने से निवेशकों का सेंटीमेंट कमजोर हुआ है. इसकी वजह से हैवीवेट शेयरों में बिकवाली बढ़ गई है. इससे बाजार धड़ाम हो गया. इसके चलते सेंसेक्स जहां 36 हजार के अपने ऊपरी स्तर से काफी नीचे आ गया है. वहीं, निफ्टी भी 250 से ज्यादा अंक टूटकर बंद हुआ.

शुक्रवार को सेंसेक्स जहां 840 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ. वहीं, निफ्टी भी 256 अंकों की भारी गिरावट के साथ बंद हुआ. सेंसेक्स 35,066.75 के स्तर पर  बंद हुआ. निफ्टी भी पिछले महीने से अब तक की सबसे बड़ी गिरावट के साथ 10,760.60 के स्तर पर बंद हुआ.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अब लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स पर भी टैक्स लगा दिया है. इसके बाद अगर आप को लिस्टेड इक्‍व‍िटी से 1 लाख रुपये से ज्यादा का LTCG मिलता है, तो इस पर आपको 10 फीसदी टैक्स लगेगा.

हालांकि 31 जनवरी, 2018 तक मिले फायदे पर टैक्स छूट मिलेगी.  इस घोषणा ने शेयर बाजार में बिकवाली बढ़ गई है.  गुरुवार को भी बजट के बाद शेयर बाजार में गिरावट का दौर शुरू हो गया था.  

शुक्रवार को सुबह भी शेयर बाजार ने गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत की. शुरुआती कारोबार में बिकवाली बढ़ने की वजह से मार्केट में गिरावट काफी ज्यादा बढ़ गई.

इस कारोबारी हफ्ते के आख‍िरी दिन शेयर बाजार ने भारी गिरावट के साथ शुरुआत की है. शुक्रवार को सेंसेक्स 300 अंक गिरकर खुला. वहीं, निफ्टी भी 10950 के स्तर के नीचे आ गया.

You May Also Like

English News