बड़ी खबर: अक्षय कुमार की लाडली का दबंगों ने किया बुरा हाल

आगरा : सीएम अखिलेश यादव ने आगरा की रहने वाली नाजिया खान को बहादुरी के लिए लक्ष्‍मीबाई अवॉर्ड से सम्‍मानित कि‍या था। यही नहीं, बॉलीवुड एक्‍टर अक्षय कुमार भी उसे अवॉर्ड दे चुके हैं, लेकिन गुरुवार को वह दबंगों की गुंडागर्दी से हार गई।

बड़ी खबर: अक्षय कुमार की लाडली का दबंगों ने किया बुरा हाल

बड़ी खबर: नोटबंदी पर सरकार का बड़ा बदलाव, बढ़ेगी आपकी परेशानी

दबंगों ने उसकी जमकर पिटाई कर जान से मारने की धमकी दी है। नाजिया के अनुसार, पड़ोसी 40 साल से इलाके में जुए और सट्टा चला रहे थे, जिसको उसने बंद करवा दिया था।इसके बाद वे लोग उसे काफी परेशान करने लगे। ऐसे में उसने अपनी छत पर दीवार उठवा दी।इस पर दूसरे पक्ष ने अपनी दीवार होने का दावा कर पुलिस से शिकायत कर दी।
 
पुलिस ने मामले को दबाया
पुलिस ने बिना कुछ जांच-पड़ताल किए दीवार गिरा देने का दबाव बनाया। इसके बाद ये मामला एडीएम सिटी तक जा पहुंचा। मामले की जांच हुई तो नाजिया सही पाई गई।शुक्रवार को मामला निपटाने की बात हुई थी, लेकिन बीते गुरुवार को ही दूसरे पक्ष के लोग मजदूर लगाकर दीवार गिराने लगे।
ये हैं नाजिया  के आरोप
नजिया ने कहा, मैं, मेरी और मां शहनाज ने इसका विरोध किया तो दूसरे पक्ष के लक्ष्मी, धन्नू, मोहिनी उर्फ़ भानुमति और दो अन्य लोगों ने हमला बोल दिया। बुरी तरह मारा-पीटा और मां की अंगूठी और नथनी भी छीन ले गए। पीड़ि‍ता ने पुलिस को सूचना दी तो थाना मंटोला इंचार्ज शिव कुमार मौके पर आए।इसके बाद मेरे पूरे परिवार को मेडिकल करवाने और केस दर्ज कराने की बात कही है।
 
पहले भी दबंग कर चुके हैं परेशान
नाजिया ने बताया कि जब पहले गली में जुए और सट्टा बंद करवाने की कोशिश की थी तो पुलिस ने दबंगों का ही साथ दिया था।  दबंगों ने पुलिस से मिलकर नाजिया के परिजनों पर चोरी का केस लिखवा दिया। इसके बाद, बीच रास्ते नाजिया को रोककर दबंगों ने अभद्रता की और उसके कपड़े फाड़ने तक की कोशिश की थी। मीडिया में ये बात आने पर पुलिस को चोरी का मुकदमा कैंसल करते हुए दबंगों के खिलाफ लूट की धाराओं में मुकदमा दर्ज करना पड़ा।
 मारपीट के दौरान सीएम को किया ट्वीट
पीड़ि‍ता ने बताया कि जब दबंगों ने उससे मारपीट की तो उसने सीएम अखिलेश यादव को ट्वीट कर मदद मांगी थी। सीएम के आदेश पर पूरा प्रशासन कार्रवाई में जुट गया था और केंद्रीय महिला आयोग की सदस्य भी आकर नाजिया से मिली थीं और अखिलेश यादव से शिकायत की बात कही थी।
पुलिस कर रही लीपापोती,अब तक नहीं हुई कोई कार्रवाई
उस दौरान दबाव में केस दर्ज हो गया, लेकिन कार्रवाई आज तक नहीं हुई। एक बार नाजिया ने आरोपी खुद पकड़वाए, लेकिन पुलिस ने उन्‍हें छोड़ दिया।  नाजिया ने बताया कि उसके परिवार को धमकी मिलती है और डराया जाता है।  आरोपी खुलेआम घूमते हैं, लेकिन पुलिस को नहीं मिलते।
क्‍या कहती है पुलि‍स
स्‍थानीय दारोगा शिव कुमार शर्मा ने बताया कि‍ दीवार बनाने को लेकर विवाद है। दूसरी पार्टी फरार हो गई है। केस दर्ज कर लि‍या गया है और आरोपि‍यों को पकड़ने के लि‍ए दबिश दी जा रही है।
 

You May Also Like

English News