बड़ी खबर: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हुए बीमार

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो कि दिन रात काम करते रहते हैं। उनकी तबियत खराब हो गई है। पीएम मोदी गुरुवार को वाराणसी के कार्यक्रम में बोल रहे थे तब उनकी आवाज में वो दम नहीं दिख रहा था जो होता है।  उनकी आवाज में लड़खड़ा रही थी जैसा कि ठंड के मरीज के साथ होता है। पीएम ने बैठी हुई आवाज में ही पूरा भाषण दिया। कंबल से लिपटे पीएम ने बनारस से खड़े होकर विपक्ष को खरी खोटी सुनाई।modi-pm-sadhvi-620x400

PM मोदी दे रहे हैं नए साल का बड़ा तोहफा हर किसी के पास होगा अब अपना घर

पीएम ने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बहुत लोगों को नहीं पता होगा कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह जो पहले वित्त मंत्री और फिर देश के पीएम बने। वो लगातार 20 साल देश की अर्थव्यवस्था के कर्ताधर्ता रहे हैं। वो मुझ पर हमला बोलकर अपना ही रिपोर्ट कार्ड दे रहे हैं। वो कहते हैं कि गांवों में बिजली नहीं हैं मोबाइल नहीं हैं। तो ये किसकी कमी है मुझसे पहले सरकार किसकी रही है। कौन गद्दी पर था। सवाल तो आप पर ही। मैंने तो आके बिजली के तारों को नहीं काटा। 

बड़ी खबर: पेट्रोल के दामों 10 से 15 रुपए की होगी गिरावट

इससे पहले पीएम ने कहा कि पाकिस्तान को जब आतंकियों को भारत में भेजना होता है तो वो फायरिंग करना शुरू कर देता है। और चुपके से आतंकी भारत में घुस जाते हैं। ठीक वैसा ही काम विपक्ष कर रहा है। संसद में हल्ला मचाकर पिछले दरवाजे से विपक्ष बेइमानों को बचा रहा है। ये एक तरह से पाकिस्तान की मदद ही हुई। लेकिन दुनिया को ये समझना होगा कि देश की जनता ने तकलीफ झेली है। 6-8 आठ घंटे तक नागरिक कतार में खड़ा रहता है। लेकिन तकलीफ के बाद भी देशवासी मेरे फैसले के साथ हैं। 

उन्होंने वाराणसी को 2100 करोड़ रुपए का शिलान्यास किया है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में जब भी कैंसर की चर्चा होती है मुंबई की तरफ ही ध्यान जाता है। हम जानते हैं कि मुंबई बहुत दूर हैं यूपी का गरीब आदमी कैसे वहां जाएगा। इसलिए हम यहां विश्व स्तर का कैंसर अस्पताल बना रहे हैं। ताकि पूर्व उप्र और बिहार के लोगों को सुविधा मिल सके। 
नोटबंदी और 2 महीने के अंदर राज्य में विधानसभा चुनाव को देखते हुए पीएम की इस यात्रा को काफी माना जा रहा है। अपनी वाराणसी यात्रा के दौरान पीएम करीब 1 बजे बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं से रूबरू होंगे। इस दौरान पीएम पार्टी कार्यकर्ताओं को नोटबंदी की अहमियत समझा सकते हैं।

You May Also Like

English News