बड़ी खबर: देश के सबसे बड़ मीट कारोबारी को ईडी ने किया गिरफ्तार!

नई दिल्ली: ईडी यानि प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में चर्चित कानपुर के चर्चित मीट कारोबारी मोईन कुरैशी को गिरफ्तार कर लिया है। मोईन कुरैशी को शुक्रवार की रात दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। पिछले महीने एक गुप्त सूचना के आधार पर ईडी ने साउथ दिल्ली में मोईन के दो ठिकानों पर छापेमारी की थी।


अरबपति कारोबारी पर हवाला के जरिए दुबई, लंदन और यूरोप के अन्य शहरों में पैसे भेजने का आरोप है। ईडी ने छापेमारी के दौरान कुछ जेवर और लेन.देन के संदिग्ध दस्तावेज भी जब्त किए हैं। इस आधार पर ईडी ने संबंधित ट्रांजेक्शन की विस्तृत जानकारी कई अन्य देशों से मांगी है। कुरैशी पर हवाला के जरिये 200 करोड़ रुपए विदेश में भेजने का आरोप है।

कुरैशी साल 2011 से ही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के रडार पर हैं। मगर उस पर पहली बार कार्रवाई 2014 में हुई। मूल रूप से कानपुर का रहने वाला मोईन कुरैशी मीट कारोबार के जरिये अरबपति बना। राजनीतिक गलियारों में उसकी अच्छी पकड़ बताई जाती है। देहरादून के दून स्कूल और दिल्ली के सेंट स्टीफन कॉलेज से पढ़ाई करने के बाद कुरैशी ने यूपी के रामपुर में एक छोटा बूचडख़ाना खोला और जल्द ही देश का सबसे बड़ा मीट कारोबारी बन गया।

कुरैशी की देश-विदेश में कई कंपनियां हैं। उसकी एएमक्यू नाम की कंपनी मांस का निर्यात करती है। मोईन कुरैशी दिल्ली के छतररपुर में एक फार्महाउस है जिसके बारे में कहा जाता है कि उसे जर्मनी के आर्किटेक्ट जीन लुइन ने डिजाइन किया था। डिजाइनिंग की टॉप इंटरनेशनल मैगजीन एली डिकोर के फ्रंट पेज पर इसे जगह दी गई थी। मोईन कुरैशी को ईडी ने पहली बार 2014 के चुनावों के दौरान गिरफ्तार किया था।

You May Also Like

English News