बदमाशों ने असलहे के बल पर लूटा ट्रक

बदमाशों ने असलहे के बल पर लूटा ट्रकलखनऊ , 28 नवम्बर। बंथरा इलाके में असलहाधारी बदमाश एक ट्रांसपोर्ट के सामने खड़ा ट्रक लूट ले गये। बदमाशों ने ट्रक के क्लीनर को बंधक बनाकर बुरी तरह पीटा और फिर कानपुर के पूरवा इलाके में हाईवे पर फेंक कर फरार हो गये। ट्रक लूट की इस सूचना पर बंथरा पुलिस मामले की छानबीन में लगी है। फिलहाल अभी तक इस मामले में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की गयी है। कानपुर जनपद निवासी शम्भूनाथ गुप्ता का बंथरा के जुनाबगंज इलाके में नागपुर कैरियर नाम से ट्रांसपोर्ट है। बताया जाता है कि रविवार की रात एक ट्रक यूपी 71 टी- 8487 ट्रांसपोर्ट के बाहर खड़ा था। ट्रक का चालक ट्रांसपोर्ट आफिस में सो रहा था,जबकि क्लीनर फतेहपुर निवासी लल्लन ट्रक में लेटा था। देर रात कुछ बदमाश वहां पहुंचे और उन लोगों ने असलहा दिखाकर ट्रक का गेट खुला लिया। ट्रक का गेट खुलते ही चार से पांच असलहाधारी बदमाश ट्रक के अंदर घुस गये और उन लोगों ने क्लीनर को गन प्वाइंट पर बंधक बना लिया। इसके बाद बदमाशों ने ट्रक स्टार्ट किया और उसको लेकर फरार हो गये। बंथरा के भागने के बाद बदमाश जब ट्रक को लेकर कानपुर के पूरवा इलाके में पहुंचे तो बदमाशों ने क्लीनर लल्लन को बुरी तरह मारापीटा और उसको हाईवे पर फेंक कर फरार हो गये। उधर सुबह होने पर जब ट्रक चालक को अपना ट्रक नहीं दिखा तो उसने ट्रक को तलाशना शुरू किया पर कोई पता नहीं चल सका। इसके बाद चालक व ट्रांसपोर्ट के अन्य कर्मचारी शिकायत लेकर पास में ही स्थित चौकी पहुंचे और शिकायत की। मामले को गंभीरता से लेने के बजाये पुलिस वालों ने यह कहकर उन लोगों को टरका दिया कि क्लीनर ट्रक लेकर चला गया है। इस बीच करीब 9 बजे ट्रक के क्लीनर लल्लन ने एक ढाबे वाले के मोबाइल फोन से चालक व ट्रांसपोर्ट को फोन किया और बताया कि बदमाशों ने ट्रक लूट लिया है। ट्रक लूट की बात पता चलते ही ट्रांसपोर्ट शम्भूनाथ ने सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना मिलते ही मौके पर बंथरा पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने इधर-उधर छानबीन की और फिर क्लीनर लल्लन को अपने साथ लेकर कानपुर के पूरवा इलाके चली गयी, जहां पर बदमाशों ने क्लीनर को फेंका था। फिलहाल अभी तक ट्रक लूट की इस घटना के संबंध में पुलिस ने कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की है।

पहले भी दो ट्रक लूट की वारदात हो चुकी है हाईवे पर पुलिस पेट्रोलिंग सवालों के घेरे में राजधानी में ट्रक लूट की यह कोई पहली घटना नहीं है। चंद रोज पहले काकोरी इलाके में बदमाशों ने सेब से लदा एक ट्रक लूटा था। इस घटना का खुलासा एसटीएफ ने किया था और लूटे गये ट्रक व सेब के साथ कुछ बदमाशों को गिरफ्तार किया था। वहीं पीजीआई इलाके में भी बदमाश एक खाली ट्रक को लूट ले गये थे। बदमाशों ने ट्रक के चालक को प्रतापगढ़ जनपद में फेंक दिया था। इस वारदात को खुलासा करते हुए क्राइम ब्रांच में कुछ बदमाशों को गिरफ्तार किया था और लूटा गया ट्रक भी बरामद किया था। शहर में रात के वक्त हाईवे पर हो रही लूट की यह घटनाएं साफ दर्शाती है कि हाईवे पर पुलिसिंग का क्या हाल है। बदमाश बड़ी आराम से वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं और पुलिस को भनक तक नहीं लगती है। हाल में ही बुलंदशहर जनपद में हाईवे पर लूट व गैंगरेप की घटना के बाद आईजी लेविल के अधिकारियों को हाईवे की सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गयी थी। जिम्मेदारी मिलने के बाद अधिकारियों ने कुछ दिन तक तो हाईवे पर सघन चेकिंग अभियान चला पर समय गुजरने के साथ ही हाईवे पर पुलिस पेट्रोलिंग की व्यवस्था उसी पुराने ढर्रे पर पहुंच गयी।

 
 
 
 

You May Also Like

English News