बन्दर बना शिवभक्त,बेलपत्र और पुष्प से भगवान शिव की आराधना….

हमारे देश में बंदरों को भगवान हनुमन का अवतार माना जाता है। हनुमन भगवान श्रीराम के भक्त तो थे ही, साथ ही वे भोलेनाथ भगवान शिव के भी बड़े भक्त माने जाते हैं।

लेकिन जहां कलयुग में इंसानों का भगवान पर से ही विशवास उठ गया है, वहीं भगवान ने ही ऐसा चमत्कार कर दिखाया है, जिसे देखकर सभी की आखें खुली की खुली रह गई। जी हां, भगवान ने लोगों को एक ऐसे रूप में दर्शन दित्ये, जिसके बाद उनपर लोगों का विश्वास अटूट हो गया।

राशिफल: जनवरी के पहले मंगलवार को इन पर कृपा करेंगे बजरंग बली

ये घटना है राजस्थान के प्रतापगढ़ की, जहां शहर के दीपेश्वर तालाब मंदिर परिसर में भी शनिवार को हनुमन के रूप एक बन्दर ने सबके सामने भगवान शिव की आराधना कर सबको चकित कर दिया। इस बन्दर ने अचानक लोगों के बीच से आकर शिवलिंग पर इंसानों की ही तरह बिल्वपत्र और फूल चढ़ाए।

जहां कुछ लोग इसे बन्दर की नक़ल करने की क्षमता का एक रूप मान रहे हों, लेकिन कुछ लोगों के लिए ये किसी चमत्कार से कम नहीं है। 
इस घटना का जैसे ही लोगों को पता चला, लोगों की भीड़ इस दृश्य को देखने के लिए उमड़ पड़ी और बन्दर को भगवान का रूप मानकर पूंजने लगी। लोगों के अनुसार ऐसा दृश्य बहुत ही कम देखा जाता है। और जब मंदिर में ये वाकया हुआ, तो लोगों के मन में श्रद्धा का सागर उमड़ पड़ा। इस वाकये के बाद इस मंदिर की मान्यता और बढ़ गई और लोग भक्ति भाव से भगवान शिव की आराधना में जुट गए।

You May Also Like

English News