बरसा आंधी-पानी का कहर, किशोर समेत चार की मौत…    

प्रतापगढ़ जिले में रविवार की रात आंधी-पानी ने जो कहर ढाया, उसके जख्म सोमवार को और हरे हो गए। कुंडा से लेकर पट्टी तक व शहर में भी मौसम का रौद्र रूप देख लोग कांप उठे। इस दौरान पेड़, टिन शेड गिरने से एक किशोर समेत चार लोगों की मौत हो गई। आठ से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। बिजली व्यवस्था बाधित हो गई। कई जगह सड़कों पर पेड़ गिर जाने से आवागमन प्रभावित रहा।

कुंडा संवादसूत्र के अनुसार नवाबगंज थाना क्षेत्र के लाल ¨सह का पुरवा गांव निवासी जवाहर लाल (60)कालाकांकर ब्लाक के सामने चाय-पान की दुकान खोलकर अपनी जीविका चलाता था। रविवार की रात वह दुकान बंदकर साइकिल से घर जा रहा था। गांव के मोड़ के सामने पहुंचा था कि तभी तेज हवाओं के साथ बिजली कड़की और उस पर वज्रपात हो गया। इससे वह झुलसकर अचेत होकर गिर पड़ा। थोड़ी देर बाद जब परिजनों को जवाहर लाल के गिरने की सूचना मिली तो वह भागकर मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक उसकी सांसें थम चुकी थीं। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इसी तरह लवाना पूरे दिनऊ गांव निवासी बिरजू (70) पुत्र ननकू पासी आंधी-पानी के दौरान घर के सामने बने छप्पर में बैठा था कि तभी एक पेड़ छप्पर पर गिर पड़ा और वह उसी में दब गया। इससे उसकी मौत हो गई।

पट्टी संवादसूत्र के अनुसार आसपुर देवसरा थाना क्षेत्र के सैलखा गांव में पेड़ गिरने से रविवार की रात बनवारी (45) की मौत हो गई। वह अपने कच्चे घर में सो रहा था। उसे परिवार के लोग आनन फानन में अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां मृत घोषित कर दिया गया। मंगरौरा संवादसूत्र ने बताया है कि कंधई थाना क्षेत्र के दरछूट गांव में रोशन अली (15) पुत्र आशिक अली टिन शेड रात में उखड़कर जमीन पर आ गया। रोशन उसे सोमवार की सुबह ठीक करने के लिए चला इसी बीच शेड गिरा और उसी के साथ रोशन भी उसी के नीचे आ गया। शेड की कोर से उसके सिर में ऐसी लगी कि उसकी जान ही निकल गई। इसी प्रकार कंधई थाना क्षेत्र के ही भिवनी गांव निवासी रामलाल सरोज (55) के ऊपर दीवार गिर पड़ी, जिससे उसके रीढ़ की हड्डी टूट गई। रात में ही आनन फानन में परिजन उसको जिला अस्पताल गए जहां से उसे डॉक्टरों ने इलाहाबाद के लिए रेफर कर दिया। भिवनी के ही घनश्याम चौरसिया का टिन शेड उड़ गया। कंधई थाना के ही पूरे मुसई गांव में ट्रांसफार्मर सहित पोल टूटकर गिर पड़ा। पड़ोसी जीतलाल वर्मा, बच्ची देवी के मकान पर भी पेड़ गिरने से उनकी गृहस्थी मलबे में दब गई। घर के अंदर खाना खा रहे जगदीश व मालती को चोट आई। लालगंज संवादसूत्र के अनुसार हरि हरपुर कैलहा निवासी घेर्राऊ वर्मा(45) पुत्र मोहन घर के सामने मड़हा में खाना खा रहा था इसी बीच आई तेज आंधी से मड़हे के नीचे दबने से घायल हो गया, महुआवन गाबी में जाहिद की पुत्री गुलनाज बानो (17) घायल हो गई, जिला अस्पताल में दोनों का इलाज चल रहा है।

You May Also Like

English News