बवाना उपचुनाव: दो पो‌ल‌िंग बूथ पर EVM खराब होने के कारण से मतदान हुआ बाध‌ित…

दिल्ली के बवाना विधानसभा सीट पर मतदान शुरू हो चुके हैं। उपचुनाव के लिए कुल 379 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। इनमें 96 पोलिंग स्टेशनों को संवेदनशील बताया गया है। इस बार कुल 2.94 लाख मतदाता वोट करेंगे। मतदान सुबह 8 बजे से शुरू हो चुके हैं जो कि शाम को 6 बजे तक चलेगा।बवाना उपचुनाव: दो पो‌ल‌िंग बूथ पर EVM खराब होने के कारण से मतदान हुआ बाध‌ित...बड़ी खबर: RBI ने कर दिया बड़ा ऐलान, सितंबर से लोग प्रयोग कर सकेंगे 200 रुपये का नोट

9:20 AM- दो पोल‌िंग बूथ पर ईवीएम खराब होने से कुछ देर के ल‌िए मतदान बा‌ध‌ित हुआ। ले‌क‌िन अब दोबारा मतदान शुरू हो चुके हैं।

बता दें कि दिल्ली की बवाना सीट विधायक वेदप्रकाश के इस्तीफे की वजह से खाली हुई है। यहां आम आदमी पार्टी ने अपने कार्यकर्ता रामचंद्र को उम्मीदवार बनाया है। उपचुनाव के नतीजे 28 अगस्त को आएंगे।

इससे पहले ही मंगलवार को बवाना में मतदाताओं ने वीवीपैट (वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) वाले ईवीएम (इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन) में वोट डालकर इसके बारे में जाना। दरअसल उत्तरी जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय ने बवाना में प्रयोग हो रहे वीवीपैट से लोगों को अवगत कराने के लिए अलग-अलग इलाकों में लोगों को इस मशीन के बारे में जागरूक किया। साथ ही उनसे मॉक पोल भी कराया।

चुनाव अधिकारियों के मुताबिक, बीते चार दिन से दो मशीनें अलग-अलग इलाके में ले जाकर लोगों को इस बारे में जानकारी दी गई। ताकि मतदान वाले दिन यानी 23 अगस्त को किसी को भी इसमें दिक्कत ना आए।

बवाना उपचुनाव में इस बार सभी 379 पोलिंग स्टेशनों पर वीवीपैट वाले ईवीएम का प्रयोग हो रहा है, जिसमें वोट डालने के बाद एक स्लिप निकलेगी। इससे पता चलेगा कि मतदाता का वोट किसे गया है। हालांकि मतदाता स्लिप घर नहीं ले जा सकेंगे।

इन दस्तावेज के साथ डाल सकेंगे वोट

पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकारी और गैर सरकारी कंपनियों का आई कार्ड, बैंक या पोस्ट ऑफिस की पासबुक, पैन कार्ड, स्मार्ट कार्ड, एनपीआर, मनरेगा जॉब कॉर्ड, स्वास्थ्य बीमा कार्ड श्रम मंत्रालय की ओर से जारी, पेंशन कागजात फोटो के साथ, आयोग की वोटर स्लिप। यह तभी मान्य होगा जबकि आप का नाम मतदाता सूची में दर्ज हो।

मतदान केंद्रों पर बीजेपी ने लगाई ड्यूटी 
 बवाना विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव के लिए दिल्ली प्रदेश भाजपा ने अपने तमाम नेताओं और कार्यकर्ताओं को मतदान केंद्र अनुसार जिम्मेदारी सौंपी। सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को बुधवार को मतदान आरंभ होने से पहले मतदान केंद्रों और उनसे जुड़े इलाकों में दस्तक देने का फरमान दिया। इसके अलावा मतदान खत्म होने तक अपने-अपने कार्यक्षेत्र में ही डटे रहने का आदेश दिया गया है। 

दिल्ली प्रदेश भाजपा ने बवाना इलाके के प्रत्येक मतदान केंद्र का एक प्रभारी बनाया है। यह जिम्मेदारी विधायक एवं पार्षद स्तर के नेता को दी गई है। उनके सहयोग के लिए प्रदेश, जिला एवं मंडल स्तर के पदाधिकारियों को लगाया गया है। इसके अलावा अनेक इलाकों के कार्यकर्ता उनके साथ मिलकर घरों से मतदाताओं को निकालने का कार्य करेंगे। 

You May Also Like

English News