बाबू लेंगे बिहार के सरकारी स्कूलों में क्लास, सरकार ने शुरू की नई पहल

बिहार के सरकारी स्कूलों के बच्चों को अब बाबू लोग पढ़ाएंगे। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए यह प्रयोग किया जा रहा है। शुरुआत पटना जिले से हो रही है। जिले के सभी सरकारी अधिकारियों और पदाधिकारियों को अपने क्षेत्र के सरकारी स्कूलों में हफ्ते में एक दिन एक घंटे बच्चों को पढ़ाने का काम सौंपा गया है। 
बाबू लेंगे बिहार के सरकारी स्कूलों में क्लास, सरकार ने शुरू की नई पहल

साथ ही अधिकारी स्कूलों की स्थिति का जायजा भी लेंगे। इसी के मद्देनजर पटना के डीएम संजय अग्रवाल शुक्रवार को शिक्षक की भूमिका में दिखे। डीएम राजधानी के बांकीपुर गर्ल्स हाई स्कूल पहुंचे। वहां पहुंचने पर जिलाधिकारी को सरकारी स्कूल की हकीकत की भी जानकारी हुई। डीएम ने बच्चों से पूछा तो पता चला कि स्कूल में चार विषय के शिक्षक ही नहीं हैं। 

मौसम ने अचानक बदली अपनी फिजा बारिश संग ओले, तोडा 100 साल का रिकॉर्ड

बच्चियों ने टॉयलेट साफ  नहीं होने की शिकायत के साथ कॉमन रूम तक की मांग कर डाली। डीएम को शिक्षक की भूमिका में देखकर शिक्षिकाओं ने भी अपनी बात सामने रखी। डीएम संजय अग्रवाल का कहना है कि अधिकारियों के स्कूल में पढ़ाने से वैल्यू एडीशन होगा और शिक्षा की क्वालिटी में सुधार होगा। इस पहल से  स्कूलों  की मॉनिटरिंग भी होगी और स्कूल का रिजल्ट अच्छा होगा।

 
 

You May Also Like

English News