बारिश का कहर: चारधाम यात्रा रूट पर कई जगह आया मलबा, सैकड़ों यात्री फंसे

चमोली में रात भर हुई तेज बारिश के चलते बदरीनाथ हाईवे पर जगह-जगह मलबा आ गया है। जिससे राष्ट्रीय राजमार्ग बंद पड़ा है। मार्ग बंद होने से दोनों और सैकड़ों वाहनों की लंबी लाइन लग गई है।बारिश का कहर: चारधाम यात्रा रूट पर कई जगह आया मलबा, सैकड़ों यात्री फंसेखुफिया विभाग के अनुसार, अब दिल्ली और एनसीआर में पेरिस की तर्ज पर हो सकता है आतंकी हमला…

वहीं राजधानी देहरादून में भी सोमवार तड़के से बारिश का दौर जारी है। रुद्रप्रयाग जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग खुला है। जिले में आसमान में बादल छाए हुए हैं। तेज बारिश के आसार जताए जा रहे हैं। देर रात से लगातार हो रही बारिश से बदरीनाथ हाईवे कई जगह बंद पड़ा ह़आ है।

बीआरओ मार्ग खोलने में जुटा हुआ है, लेकिन बारिश इस कार्य में बाधा बन रही है। बारिश की वजह से बदरीनाथ हाईवे कुडियाला और लामबगड़ में बंद पड़ा है। बीआरओ और हाईवे के कर्मियों की टीम मशीनों के सा‌थ मार्ग खोलने में लगी हुई हैं। 

चमोली-कुंड मोटर मार्ग चाडा नामक तोक पर खतरनाक बना हुआ है। सोमवार की सुबह यहां पहाड़ी का एक बड़ा हिस्सा टूटकर मार्ग पर आ गया, जिससे तीन घंटे तक मोटर मार्ग बंद रहा। लोनिवि ने सुबह आठ बजे हाईवे सुचारू किया। अभी भी पहाड़ी से मलबे के गिरने खतरा बना हुआ है।

यमुनोत्री राजमार्ग पर 16 घंटों से ये यात्री फंसे

बदरीनाथ हाईवे चमोली बाजार के पास भी चट्टान टूटने से बाधित है। बदरीनाथ और हेमकुंड की यात्रा को नंदप्रयाग-सेकोट सड़क से संचालित किया जा रहा है।

वहीं थराली-ग्वालदम मल्यपोड़ मार्ग गंगानगर में बंद पड़ा है। नैनीताल हाईवे सिरोली में बंद पड़ा है। लगातार हो रही बारिश के चलते बड़कोट में यमुनोत्री राजमार्ग  जगह-जगह बंद पड़ा है।

मार्ग बंद होने से सैकड़ों श्रद्धालु पिछले 16 घंटों से जगह-जगह फंसे हुए हैं। यमुनोत्री राजमार्ग रविवार शाम पाच बजे से बाडिया एवं डबरकोट में बंद पड़ा है।

इस कारण जानकीचट्टी, हनुमानचट्टी, स्यानचट्टी के अलावा बड़कोट में 250 से अधिक श्रद्धालु फंसे हुए हैं। बारिश के कारण सोमवार सुबह तक मार्ग खोलने के प्रयास नहीं किए जा सके। 

loading...

You May Also Like

English News