बारिश से बेहाल मुंबई, सड़कों पर भरा पानी, डब्बावालों ने कहा- आज नहीं देंगे सर्विस

आर्थिक राजधानी मुंबई में लगातार बारिश लोगों पर आफत बन गई है. बीते कुछ दिनों से जारी भारी बारिश की वजह से मायानगरी की रफ्तार थम सी गई है. मूसलाधार बारिश की वजह से मुंबईवासियों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. मुंबई और उसके आस-पास के क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश की वजह से सड़कों, रेलवे की पटरियों पर पानी भर गया है और रेलवे यातायात भी प्रभावित हो रहा है. बारिश से जगह-जगह पानी इतना भर गया है कि सड़कों पर निकलना तक लोगों के लिए मुश्किल हो गया है. मौसम विभाग ने आज भी मुंबई में तेज बारिश की चेतावनी जारी की है. पल-पल की अपडेट के लिए बने रहिए एबीपी न्यूज़ के साथ.आर्थिक राजधानी मुंबई में लगातार बारिश लोगों पर आफत बन गई है. बीते कुछ दिनों से जारी भारी बारिश की वजह से मायानगरी की रफ्तार थम सी गई है. मूसलाधार बारिश की वजह से मुंबईवासियों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. मुंबई और उसके आस-पास के क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश की वजह से सड़कों, रेलवे की पटरियों पर पानी भर गया है और रेलवे यातायात भी प्रभावित हो रहा है. बारिश से जगह-जगह पानी इतना भर गया है कि सड़कों पर निकलना तक लोगों के लिए मुश्किल हो गया है. मौसम विभाग ने आज भी मुंबई में तेज बारिश की चेतावनी जारी की है. पल-पल की अपडेट के लिए बने रहिए एबीपी न्यूज़ के साथ.    Mumbai Rains LIVE UPDATES     महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा है कि ऐसी बारिश नहीं है कि स्कूल को बंद किया जा सके. सरकार ने सभी सरकारी स्कूलों को खुले रखने का फैसला किया है.  भारी बारिश के चलते पश्चिमी रेलवे की उपनगरीय सेवाओं को रोक दिया गया है. रेलवे के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि चर्चगेट और बोरिवली के बीच सेवाएं सामान्य हैं.  रेल की पटरियों में पानी भर गया है और यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेल सेवाएं तब तक रोक दी गईं हैं, जब तक कि पटरियों पर पानी कम नहीं हो जाता.  भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने 12 जुलाई तक भारी बारिश का अनुमान जताया है.  मुंबई डिब्बवाला संगठन के प्रवक्ता सुभाष तालेकर ने कहा, ‘‘शहर भर में पानी भरा होने के कारण हमने आज टिफिन इकट्ठा नहीं किए. घुटनों तक भरे पानी के बीच साइकिल चलाना हमारे लोगों के लिए मुश्किल है.’’  मुंबई के पवई में हुई तेज बारिश के बाद पवई लेक ओवर फ्लो होने से सड़कों पर भी पानी भर गया है. वहीं प्रशासन के अलर्ट के बाद कम ही लोग बारिश में घरों से बाहर निकल रहे हैं.  नालासोपारा इलाके में तेज बारिश के बाद लोगों की कमर तक पानी भर गया है.  बारिश से वडाला के रिहायशी इलाकों में पानी भरा हुआ है. वहीं वडाला स्टेशन पर भी पटरियां पानी में डूबी हुई हैं. आज भी भारी बारिश का अलर्ट है. सांताक्रूज इलाके की हालत भी वैसी ही है. सड़कों पर जगह-जगह पानी भरा हुआ है. सांताक्रूज वो इलाका है जहां वीआईपी लोग रहते हैं बड़ी हस्तियों का घर यहीं पर है.  मौसम विभाग, मुंबई के उप महानिदेशक केएस होसालिकर ने बताया, इस मौसम में 24 घंटे में हुई यह सर्वाधिक बारिश है. उन्होंने बताया कि इसी दौरान उपनगर सांताक्रूज में 122 मिमी बारिश हुई.      View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter  ANI ✔ @ANI  Heavy rainfall continues to lash Mumbai.Visuals from Wadala. #MumbaiRain  8:47 AM - Jul 10, 2018 67 22 people are talking about this Twitter Ads info and privacy    सायन इलाके में पानी भरा हुआ है और लगातार बारिश हो रही है. ऐसे में स्थिति और बिगड़ने की आशंका है. अंधेरी में गोखले पुल की घटना के बाद डब्ल्यूआर ने रविवार को एहतियात के तौर पर उत्तरी कैरिजवे और फुटपाथों को बंद रखने की घोषणा की थी. इस घटना में एक महिला की मौत हो गई थी.   इस मौसम में एक दिन में हुई सबसे ज्यादा बारिश   बता दें कि इस मौसम में एक दिन में हुई यह सबसे ज्यादा बारिश है, जिसके कारण कई सड़कों और गलियों में पानी भर गया. लोगों को घुटनों तक भरे पानी से गुजरना पड़ा. बारिश और कम दृश्यता के कारण वाहन सड़कों पर रेंगते रहे, सड़कों पर बने गड्ढों से समस्या और भी बिगड़ गई है.कई निचले इलाके दादर, सायन, परेल, कुर्ला, विद्याविहार, अंधेरी, मलाड और जोगेश्वरी उपनगरों में दूसरे दिन पानी भर जाने के कारण सड़क यातायात और पैदल चलने वाले लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

        • नालासोपारा इलाके में तेज बारिश के बाद लोगों की कमर तक पानी भर गया है.
            • महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा है कि ऐसी बारिश नहीं है कि स्कूल को बंद किया जा सके. सरकार ने सभी सरकारी स्कूलों को खुले रखने का फैसला किया है.
            • भारी बारिश के चलते पश्चिमी रेलवे की उपनगरीय सेवाओं को रोक दिया गया है. रेलवे के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि चर्चगेट और बोरिवली के बीच सेवाएं सामान्य हैं.
            • रेल की पटरियों में पानी भर गया है और यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेल सेवाएं तब तक रोक दी गईं हैं, जब तक कि पटरियों पर पानी कम नहीं हो जाता.
            • भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने 12 जुलाई तक भारी बारिश का अनुमान जताया है.
            • मुंबई डिब्बवाला संगठन के प्रवक्ता सुभाष तालेकर ने कहा, ‘‘शहर भर में पानी भरा होने के कारण हमने आज टिफिन इकट्ठा नहीं किए. घुटनों तक भरे पानी के बीच साइकिल चलाना हमारे लोगों के लिए मुश्किल है.’’
            • मुंबई के पवई में हुई तेज बारिश के बाद पवई लेक ओवर फ्लो होने से सड़कों पर भी पानी भर गया है. वहीं प्रशासन के अलर्ट के बाद कम ही लोग बारिश में घरों से बाहर निकल रहे हैं.
        • बारिश से वडाला के रिहायशी इलाकों में पानी भरा हुआ है. वहीं वडाला स्टेशन पर भी पटरियां पानी में डूबी हुई हैं. आज भी भारी बारिश का अलर्ट है. सांताक्रूज इलाके की हालत भी वैसी ही है. सड़कों पर जगह-जगह पानी भरा हुआ है. सांताक्रूज वो इलाका है जहां वीआईपी लोग रहते हैं बड़ी हस्तियों का घर यहीं पर है.

      मौसम विभाग, मुंबई के उप महानिदेशक केएस होसालिकर ने बताया, इस मौसम में 24 घंटे में हुई यह सर्वाधिक बारिश है. उन्होंने बताया कि इसी दौरान उपनगर सांताक्रूज में 122 मिमी बारिश हुई.सायन इलाके में पानी भरा हुआ है और लगातार बारिश हो रही है. ऐसे में स्थिति और बिगड़ने की आशंका है. अंधेरी में गोखले पुल की घटना के बाद डब्ल्यूआर ने रविवार को एहतियात के तौर पर उत्तरी कैरिजवे और फुटपाथों को बंद रखने की घोषणा की थी. इस घटना में एक महिला की मौत हो गई थी

इस मौसम में एक दिन में हुई सबसे ज्यादा बारिश

बता दें कि इस मौसम में एक दिन में हुई यह सबसे ज्यादा बारिश है, जिसके कारण कई सड़कों और गलियों में पानी भर गया. लोगों को घुटनों तक भरे पानी से गुजरना पड़ा. बारिश और कम दृश्यता के कारण वाहन सड़कों पर रेंगते रहे, सड़कों पर बने गड्ढों से समस्या और भी बिगड़ गई है.कई निचले इलाके दादर, सायन, परेल, कुर्ला, विद्याविहार, अंधेरी, मलाड और जोगेश्वरी उपनगरों में दूसरे दिन पानी भर जाने के कारण सड़क यातायात और पैदल चलने वाले लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

You May Also Like

English News