बालिका गृह यौन हिंसा: नई मुश्किल में पूर्व मंत्री मंजू वर्मा, अब आर्म्‍स एक्‍ट में FIR दर्ज

मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन हिंसा मामले में संलिप्‍तता के आरोपों से घिरी पूर्व मंत्री मंजू वर्मा की मुश्किलें बढ़तीं दिख रहीं हैं। मंजू वर्मा के बेगूसराय स्थित घर पर शुक्रवार को सीबीआइ की छापेमारी के दौरान अलग-अलग हथियारों के 50 अवैध कारतूस भी मिले थे। इस सिलसिले में सीबीआइ ने पूर्व मंत्री मंजू वर्मा तथा उनके पति चंद्रशेखर वर्मा के खिलाफ बेगूसराय के चेरिया बरियारपुर थाना में एफआइआर दर्ज कराई है।मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन हिंसा मामले में संलिप्‍तता के आरोपों से घिरी पूर्व मंत्री मंजू वर्मा की मुश्किलें बढ़तीं दिख रहीं हैं। मंजू वर्मा के बेगूसराय स्थित घर पर शुक्रवार को सीबीआइ की छापेमारी के दौरान अलग-अलग हथियारों के 50 अवैध कारतूस भी मिले थे। इस सिलसिले में सीबीआइ ने पूर्व मंत्री मंजू वर्मा तथा उनके पति चंद्रशेखर वर्मा के खिलाफ बेगूसराय के चेरिया बरियारपुर थाना में एफआइआर दर्ज कराई है।   विदित हो कि शुक्रवार की सुबह 7:20 बजे से पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के बेगूसराय स्थित घर पर सीबीआइ ने छापेमारी शुरू की। छापेमारी करीब साढ़े छह घंटे तक चली। इस दौरान सीबीआइ की टीम ने पूरे घर को खंगाला। जो भी संदिग्ध वस्तुएं मिलीं, सीबीआइ उन्‍हें साक्ष्य के तौर पर समेटकर लेती गई। उधर, सीबीआइ के एक अन्‍य टीम ने पटना में मंजू वर्मा व उनके पति चंद्रशेखर वर्मा से पूछताछ की। अलग-अलग हथियारों के कारतूस बरामद  सीबीआइ को मंजू वर्मा के घर से 50 अवैध कारतूस भी मिले थे। इसे लेकर शनिवार की रात चेरिया बरियारपुर थाना में सीबीआइ ने प्राथमिकी दर्ज कराई। सीबीआइ के आवेदन पर 50 जिंदा कारतूस मिलने के लिए थाना कांड संख्या 143/18 के तहत पूर्व मंत्री सहित उनके पति चन्द्रशेखर वर्मा के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बरामद कारतूस अलग-अलग हथियारों के हैं। सीबीआइ रडार पर मंजू वर्मा व उनके पति  मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा के नाम का खुलासा होने के बाद सीबीआइ की टीम उनके बारे में साक्ष्य जुटाने में लगी हुई है। इसी कड़ी में शुक्रवार को सीबीआइ ने उनके चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र के श्रीपुर पंचायत के अर्जुन टोल स्थित उनके आवास पर छापेमारी की थी। अब मंजू वर्मा के खिलाफ आर्म्‍स एक्‍ट का मुकदमा दर्ज होने के बाद वे नई मुसीबत में फंसती दिख रहीं हैं। इस मामले में उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटक गई है।

विदित हो कि शुक्रवार की सुबह 7:20 बजे से पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के बेगूसराय स्थित घर पर सीबीआइ ने छापेमारी शुरू की। छापेमारी करीब साढ़े छह घंटे तक चली। इस दौरान सीबीआइ की टीम ने पूरे घर को खंगाला। जो भी संदिग्ध वस्तुएं मिलीं, सीबीआइ उन्‍हें साक्ष्य के तौर पर समेटकर लेती गई। उधर, सीबीआइ के एक अन्‍य टीम ने पटना में मंजू वर्मा व उनके पति चंद्रशेखर वर्मा से पूछताछ की।
अलग-अलग हथियारों के कारतूस बरामद
सीबीआइ को मंजू वर्मा के घर से 50 अवैध कारतूस भी मिले थे। इसे लेकर शनिवार की रात चेरिया बरियारपुर थाना में सीबीआइ ने प्राथमिकी दर्ज कराई। सीबीआइ के आवेदन पर 50 जिंदा कारतूस मिलने के लिए थाना कांड संख्या 143/18 के तहत पूर्व मंत्री सहित उनके पति चन्द्रशेखर वर्मा के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बरामद कारतूस अलग-अलग हथियारों के हैं।

सीबीआइ रडार पर मंजू वर्मा व उनके पति 
मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा के नाम का खुलासा होने के बाद सीबीआइ की टीम उनके बारे में साक्ष्य जुटाने में लगी हुई है। इसी कड़ी में शुक्रवार को सीबीआइ ने उनके चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र के श्रीपुर पंचायत के अर्जुन टोल स्थित उनके आवास पर छापेमारी की थी। अब मंजू वर्मा के खिलाफ आर्म्‍स एक्‍ट का मुकदमा दर्ज होने के बाद वे नई मुसीबत में फंसती दिख रहीं हैं। इस मामले में उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटक गई है।

You May Also Like

English News