जाने कैसे सिर्फ 2 महीनों में बाल बेचकर बन सकते है करोड़पति

नई दिल्ली : बनना है सिर्फ 2 महीनों में करोड़पति तो शुरू कर दें बाल बेचना। हैरान हो गए ना आप लेकिन अगर आपको भी जल्द से जल्द करोड़पति बनना है तो आप भी अपने गिरते और कटे हुए बालों को बेचना शुरू कर दें।

जाने कैसे सिर्फ 2 महीनों में बाल बेचकर बन सकते है करोड़पति
आप अक्सर नाई के वहां बाल कटवाने तो जाते होंगे लेकिन क्या आपको अपने बालों की कीमत पता है, शायद नहीं आप सिर्फ बाल बेचकर ही करोड़ों कमा सकते हैं यह कारोबार धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। यह कारोबार ऐसा वैसा नहीं बल्कि 2,500 करोड़ रुपए है। बाल के बाजार पर नजर डालें, तो गुणवत्ता सबसे महत्त्वपूर्ण पहलू है। इस बाजार में ‘वर्जिन हेयर’ की जबरदर्स्त मांग है। वर्जिन हेयर यानी ऐसे बाल जिनमें कोई रंग नहीं लगाए गए हैं और कोई ट्रीटमेंट भी नहीं हुआ है।
भारत से आयात किए जाने वाले ज्यादातर बाल इसी श्रेणी में आते हैं। ऐसे बाल अमरीका, चीन, ब्रिटेन और यूरोप के अन्य हिस्सों में काफी लोकप्रिय भी हैं। पिछले कुछ वर्षों में बाल बेचने वाले लोगों ने बड़ी संख्या में पूछताछ की है। अब अपने बाल बेचने वालों की संख्या दोगुनी हो गई है। हेयर एक्सपर्ट्स का कहना है कि आज कल अच्छी क्वालिटी के बालों का मिलना मुश्किल हो गया है। बड़े शहरों में लोग अपना लुक बदलने के चक्कर में बालों के साथ छेड़छाड़ करते हैं। इसलिए निर्याताओं को मंदिरों की शरण में जाना पड़ता है।
 मंदिरों में बालों की नीलामी भी की जा रही है। तिरूमाला, तिरूपति देवास्थान ने श्रद्धालुओं के बालों का ई-आक्शन कर 74 करोड़ रुपए जुटाए थे। पिछले कुछ सालों से बालों का बाजार अब धीरे-धीरे बदल रहा है। दक्षिण भारत की महिलाएं अपने बालों के साथ ज्यादा छेड़छाड़ नहीं करतीं। पिछले साल हमने 20 हजार पाउंड के बाल खरीदे थे और इस साल हमें इसके दोगुना होने की उम्मीद है। रंगे बालों की मांग कम है, इसलिए यह मांग पूरी करता है मंदिर और ग्रामीण भारत।
मंदिरों के बाद ग्रामीण भारत में महिलाओं के बालों का नंबर आता है क्योंकि वह न तो रंग लगाती हैं और न ही ब्लीच करती हैं। तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के मंदिरों से बालों का निर्यात सबसे ज्यादा होता है। बालों की लंबाई के आधार पर 200 से 1,000 डालर प्रति किलो बाल बिकते हैं।
 

You May Also Like

English News