बास्केटबॉल के द्रोणाचार्य नहीं रहे!

बास्केटबॉल के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी और कोच राजेश पटेल का निधन हो गया है. हरियाणा के पानीपत में राजेश पटेल ने अंतिम सांस ली. राजेश पटेल टीम के साथ लुधियाना जा रहे थे तभी रास्ते में ही उनकी तबीयत बिगड़ गई और उनकी आकस्मिक निधन हो गया. कोच राजेश पटेल की कोचिंग में छत्तीसगढ़ की बालिका बास्केटबॉल टीम ने लगभग हर वर्ग में सफलता का परचम लहराया था. इसका नतीजा ही है कि टीम ने 103 में से 69 गोल्ड, 12 सिल्वर व 22 ब्रॉंज मेडेल टीम के खाते में है.बास्केटबॉल के द्रोणाचार्य नहीं रहे!

उनके करीबियों से मिली जानकारी के मुताबिक कुछ महीने पहले ही वे लंबी बीमारी के बाद ठीक हुए थे. बताया जा रहा है कि राजेश पटेल को हार्ट अटैक आया था. जानकारी के मुताबिक कोच राजेश पटेल लंबे समय से दिल के बीमारी से पीड़ित थे और आशंका जताई जा रही है कि उनकी इसी बीमारी के चलते मौत हो गई. 

छत्तीसगढ़ की महिला बास्केटबॉल टीम के कोच राजेश पटेल को यदि बास्केटबॉल का द्रोणाचार्य कहा जाता था. राजेश पटेल की कोचिंग में टीम ने राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अब तक 103 मेडेल जीते हैं. इनमें से 69 प्रतियोगिताओं में टीम ने विजेता का खिताब व गोल्ड मेडल जीते थे. 

You May Also Like

English News