बिजली गिरने से मासूम बच्ची की जान गई

देशभर में मानसून ने दस्तक दे दी है और तबाही भरे अंदाज में दी है. जहा एक और मुंबई में बारिश से अलर्ट जारी कर दिया गया है वही मध्य प्रदेश के चंबल में तेज बारिश और आंधी के कारण जान जीवन अस्त व्यस्त हो रहा है. मुरैना जिले में आकाशीय बिजली गिरने से एक बच्ची की मौत हो गई है और अन्य छह लोग भी इसकी चपेट में आने से घायल हो गया है. देशभर में मानसून ने दस्तक दे दी है और तबाही भरे अंदाज में दी है. जहा एक और मुंबई में बारिश से अलर्ट जारी कर दिया गया है वही मध्य प्रदेश के चंबल में तेज बारिश और आंधी के कारण जान जीवन अस्त व्यस्त हो रहा है. मुरैना जिले में आकाशीय बिजली गिरने से एक बच्ची की मौत हो गई है और अन्य छह लोग भी इसकी चपेट में आने से घायल हो गया है.    मुरैना सिटी कोतवाली के नवोदय कालोनी के नरेंद्र राठौर के मकान पर आकाशीय बिजली गिरने से एक मासूम बच्ची की जान चली गई. आस पास ही होने से छह अन्य घायल हो गए. घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा चूका है. गर्मी से राहत मिली है मगर अब धूल भरी आँधिया परेशानी का सबब बन रही है.  मौसम वैज्ञानिक के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून 11 जून के आसपास मध्य प्रदेश में आने की सम्भावना जताई है.  समूचे उत्तर भारत में अधिकांश जगह शाम के समय बारिश होने की खबरे मिल रही है. वही कही कही जगह पहली बारिश ही भीषण तबाही का कारण बन रही है. मायानगरी मुंबई में फ़िलहाल बारिश के चलते अलर्ट जारी कर दिया गया है. निचले इलाको में पानी भरने का डर बना हुआ है और फ़िलहाल तेज बारिश की आशंका है.

मुरैना सिटी कोतवाली के नवोदय कालोनी के नरेंद्र राठौर के मकान पर आकाशीय बिजली गिरने से एक मासूम बच्ची की जान चली गई. आस पास ही होने से छह अन्य घायल हो गए. घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा चूका है. गर्मी से राहत मिली है मगर अब धूल भरी आँधिया परेशानी का सबब बन रही है.  मौसम वैज्ञानिक के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून 11 जून के आसपास मध्य प्रदेश में आने की सम्भावना जताई है.

समूचे उत्तर भारत में अधिकांश जगह शाम के समय बारिश होने की खबरे मिल रही है. वही कही कही जगह पहली बारिश ही भीषण तबाही का कारण बन रही है. मायानगरी मुंबई में फ़िलहाल बारिश के चलते अलर्ट जारी कर दिया गया है. निचले इलाको में पानी भरने का डर बना हुआ है और फ़िलहाल तेज बारिश की आशंका है.   

You May Also Like

English News