बिना एयरबैग वाली Renault Duster क्रैश टेस्ट में हुई फेल, मिला जीरो स्टार

फ्रांसीसी कार कंपनी रेनो की भारत में बिकने वाली लोकप्रिय एसयूवी डस्टर क्रैश टेस्ट में फेल हो गई है. इस मॉडल का बिना एयरबैग वाला मूल संस्करण वाहन सुरक्षा समूह ग्लोबल एनसीएपी के क्रैश टेस्ट में खरा नहीं उतर पाया.ये भी पढ़े: Amazon पर आज से शुरू हुआ ग्रेट इंडिया सेल, IPhone पर मिल रही है भारी छूट

ब्रिटेन की ग्लोबल एनसीएपी की ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि बालिग व्यक्ति की सुरक्षा की दृष्टि से इस मॉडल को शून्य स्टार मिला है. क्रैश टेस्ट के नतीजों से पता चलता है कि एयरबैग नहीं होने की वजह से टक्कर या दुर्घटना की स्थिति में ड्राइवर को लगने वाली चोट अस्वीकार्य रूप से काफी उंचे स्तर पर है.

वहीं पीछे की सीट पर बच्चों की सुरक्षा की दृष्टि से डस्टर को दो स्टार दिए गए हैं. ग्लोबल एनसीएपी के महासचिव डेविड वार्ड ने कहा, यह काफी चिंता की बात है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सप्ताह के दौरान हमें भारत में एक और शून्य स्टार वाली कार देखने को मिली है.

इस बारे में संपर्क किए जाने पर रेनो इंडिया ने कहा कि उसके सभी उत्पाद भारतीय नियामकीय प्राधिकरणों द्वारा तय आवश्यक सुरक्षा मानकों को पूरा करते हैं. कंपनी ने कहा कि भारत सरकार ने घोषणा की है कि सभी मौजूदा कारों के लिए टक्कर परीक्षण मानक 2019 से और नई कारों के लिए 2017 से प्रभाव में आएंगे और रेनो पूर्ण रूप से इसका समर्थन करती है.

रेनो इंडिया ने कहा कि भारत अधिक ठोस सुरक्षा नियमनों को शामिल कर अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मानकों की ओर बढ़ रहा है. भारत एनसीएपी का आश्वासन इस दिशा में एक सकारात्मक कदम है. हालांकि, वार्ड ने कहा कि रेनो कई बाजारों के लिए डस्टर का विनिर्माण करती है और ऐसा लगता है कंपनी भारत के लिए कम सुरक्षा स्तर वाले वाहन उपलब्ध करा कर संतुष्ट है.

वार्ड ने कहा, एयरबैग वाली डस्टर संस्करण को तीन स्टार की रेटिंग मिली है. हालांकि एयरबैग का आकार छोटा होने की वजह से यह भी उम्मीदों से कम रही है. उचित आकार के एयरबैग वाले मॉडल को मानक माना जाता है.

ये भी पढ़े: अंबानी देने जा रहे हैं जियो महाधमाका ऑफर, लाइन लगाने को हो जाएं तैयार

You May Also Like

English News