बिना ड्राइवर के चल पड़ी पाक जा रहे सिख श्रद्धालुओं की ट्रेन, हादसा टला

अटारी (अमृतसर)। यहां अटारी रेलवे स्‍टेशन से पाकिस्‍तान के वाघा स्‍टेशन जानेवाली ट्रेन बिना चालक के ही चल पड़ी। इससे वहां हड़कंप मच गया। चालक ने किसी तरह ट्रेन के इंजन में चढ़ कर उसे रोका। इस ट्रेन से श्री गुरु अर्जुन देव जी का शहीदी दिवस मनाने पाकिस्‍तान स्थित गुरुधामों के दर्शन के लिए  सिख श्रद्धालुओं का जत्‍था जा रहा था।यह जत्था पाकिस्तान के गुरुद्वारा डेरा साहिब लाहौर में शहीदी दिवस 14 से 16 जून तक मनाएगा। 17 जून को स्वदेश लौट आएगा। यह जत्था गुरुद्वारा पंजा साहिब, जन्म स्थान श्री ननकाना साहिब, गुरुद्वारा रोड़ी साहिब व अन्य धार्मिक स्थानों के दर्शन करेगा।यह जत्था पाकिस्तान के गुरुद्वारा डेरा साहिब लाहौर में शहीदी दिवस 14 से 16 जून तक मनाएगा। 17 जून को स्वदेश लौट आएगा। यह जत्था गुरुद्वारा पंजा साहिब, जन्म स्थान श्री ननकाना साहिब, गुरुद्वारा रोड़ी साहिब व अन्य धार्मिक स्थानों के दर्शन करेगा।

घटना उस समय हुई जब अटारी स्टेशन पर ट्रेन खड़ी हुई। चालक के उतरने के बाद वह अपने आप ही चल पड़ी। यह देख वहां खड़े लोग हैरान हो गए। धीरे-धीरे ट्रेन चलती देखकर चालक भागकर इंजन पर बैठा और ट्रेन को रोका। इस तरह बड़ा हादसा होने से टल गया।

पांचवी पातशाही साहिब श्री गुरु अर्जुन देव जी का शहीदी दिवस पाकिस्तान स्थित गुरु धामों में मनाने के लिए भारत से अकाली दल दिल्ली के अध्यक्ष परमजीत सिंह सरना ग्रुप व भुल्लर ग्रुप से संबंधित 84 सिख श्रद्धालुओं का जत्था शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय अटारी रेलवे स्टेशन से पाकिस्‍तान रवाना हुआ।

सरना ग्रुप से 31 व भुल्लर ग्रुप से 53 सिख श्रद्धालु इस जत्थे में शामिल थे। जत्थे की अगुवाई कर रहे जंग सिंह व प्रीतम सिंह ने अटारी रेलवे स्टेशन पर कहा कि श्रद्धालुओं के पास सात दिन का वीजा है। वे गुरु अर्जुन देव जी का शहीदी दिवस मनाने के बाद पाकिस्तान स्थित गुरु धामों के दर्शन करेंगे।

यह जत्था पाकिस्तान के गुरुद्वारा डेरा साहिब लाहौर में शहीदी दिवस 14 से 16 जून तक मनाएगा। 17 जून को स्वदेश लौट आएगा। यह जत्था गुरुद्वारा पंजा साहिब, जन्म स्थान श्री ननकाना साहिब, गुरुद्वारा रोड़ी साहिब व अन्य धार्मिक स्थानों के दर्शन करेगा।

 

You May Also Like

English News