बिहार पहुंचा मानसून: भीषण गर्मी से मिली राहत

मानसून का बेसब्री से इंतजार कर रहे बिहार वासियों को अब गर्मी से राहत मिली है। सूबे में आसमान काले बादलों से घिर गए हैं। मौसम विभाग के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून सक्रिय हो गया है। अगले 48 घंटे के दौरान झमाझम बारिश की संभावना है। पटना, छपरा, मुजफ्फरपुर और मोतिहारी में सोमवार को बारिश हो सकती है, जबकि पूर्णिया, फारबिसगंज, सुपौल और भागलपुर के आसपास मंगलवार तक मानसून की वर्षा शुरू होगी। इस बीच रविवार को राजधानी का मौसम खुशगवार रहा।

आधे पटना में पड़ीं फुहारें

रविवार से राजधानी का मौसम खुशगवार है। एक सप्ताह से 40 डिग्री सेल्सियस की गर्मी झेल रहे लोगों को बादलों और ठंडी हवा ने राहत दी है। कल दोपहर बाद पटना सिटी, गायघाट, भिखना पहाड़ी, अशोक राजपथ, मुसल्लहपुर हाट और गांधी मैदान के आसपास के इलाकों में लगभग आधे घंटे तक बारिश हुई। कंकड़बाग व गंगा के किनारे के इलाकों में छिटपुट बारिश हुई। चिरैयाटाड़, बोरिंग रोड, स्टेशन, पाटलिपुत्र, बेली रोड, फुलवारीशरीफ आदि इलाकों में आकाश में बादल छाए रहे, मगर बूंदाबांदी ही हुई।बारिश से कई इलाकों में जल जमाव हो गया। 

गया, चंपारण, पूर्णिया में भी बरसे बादल  
मौसम विभाग के अनुसार रविवार को गया में 9.6 एमएम वर्षा रिकॉर्ड की गई। भागलपुर में 0.4 एमएम, पूर्णिया में 5 एमएम, किशनगंज में 6 एमएम, सुपौल में 7 एमएम, चंपारण में 4 एमएम और बोधगया में 4 एमएम वर्षा दर्ज की गई। मौसम विभाग के निदेशक के अनुसार शनिवार को अरब सागर में सक्रिय हुआ मानसून गुजरात और मध्य प्रदेश होते बंगाल के उत्तरी हिस्से और पूर्वी बिहार के सीमावर्ती क्षेत्र में बारिश लेकर पहुंचा है।

उमस और गर्मी से मिली राहत 
पटना का अधिकतम तापमान 34.5 डिग्री और न्यूनतम तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। गया का अधिकतम तापमान 37.9 डिग्री और न्यूनतम तापमान 24.3 डिग्री सेल्सियस रहा। भागलपुर का अधिकतम तापमान 36.7 डिग्री और न्यूनतम 27.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। पूर्णिया का अधिकतम तापमान 35.2 डिग्री और न्यूनतम तापमान 27.5 डिग्री सेल्सियस रहा।

 

You May Also Like

English News