‘बिहार में कहीं भी शराब मिली तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी भेजो जेल’

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने बिहार में नए शराबबंदी कानून को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। पासवान ने कहा, ‘अगर बिहार में कहीं भी शराब बरामद होती है, तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी गिरफ्तार कर जेल भेजा जाना चाहिए। केंद्रीय मंत्री का यह बयान 2 अक्टूबर से राज्य में नए शराबबंदी कानून के लागू होने के बाद आया है। बता दें कि शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के उस आदेश पर स्टे लगा दिया था, जिसमें पटना हाईकोर्ट ने नीतीश सरकार के पुराने शराबबंदी कानून को रद्द कर दिया था। पुराना शराबबंदी कानून राज्य में इसी साल 5 अप्रैल को लागू हुआ था। 
'बिहार में कहीं भी शराब मिली तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी भेजो जेल'तालिबानी कानून के खिलाफ पासवान
केंद्रीय मंत्री पासवान ने कहा, ‘जैसा कि प्रावधान है कि अगर घर में शराब मिलती है, तो परिवार के सभी बालिग सदस्य जेल जाएंगे। इसी तरह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी गिरफ्तार कर जेल भेजा जाना चाहिए अगर राज्य में कहीं भी शराब बरामद होती है।’

केंद्रीय मंत्री ने शराबबंदी के मसले पर लोक जनशक्ति पार्टी का रूख स्पष्ट करते हुए कहा, ‘हम राज्य में शराबबंदी के समर्थन में हैं, लेकिन नए शराबबंदी कानून में मौजूद तालिबानी प्रावधानों के खिलाफ हैं।’ पासवान नए शराबबंदी कानून के जिस प्रावधान का उल्लेख कर रहे हैं, ‘वह घर में शराब पाए जाने पर परिवार के सभी सदस्यों की गिरफ्तारी और उन्हें जेल भेजे जाने का है।’

लालू यादव पर भी साधा निशाना

नीतीश कुमार के साथ रामविलास पासवान ने हाल के दिनों में रेप के आरोपी विधायक राजवल्लभ यादव से मुलाकात को लेकर लालू प्रसाद यादव पर भी निशाना साधा। पासवान ने कहा कि रेप का आरोपी विधायक लालू यादव से मदद मांगने की खातिर गया था, जैसा कि विधायक को बचने की उम्मीद नहीं है। रेप के आरोपी विधायक बेल पर जेल से बाहर थे और उन्हें वापस जेल जाना है। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुझे सुप्रीम कोर्ट पर पूरा भरोसा है और इस मामले में भी न्याय होगा।

 
 

You May Also Like

English News