बिहार में छठ के अंतिम दिन पसरा मातम, 26 की मौत

पटना। चार दिनों से चले आ रहे छठ महापर्व का बिहार में समापन मातम के साथ हुआ। जहां एक तरफ दरभंगा में उगते सूर्य को अर्घ्य देकर लौट रही 6 व्रतियां सोमवार सुबह समस्तीपुर के निकट ट्रेन की चपेट में आ गईं जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं दूसरी तरफ अलग-अलग घटनाओं में डूबने से करीब 20 लोगों की जान चली गई जिनमें 14 बच्‍चे शामिल हैं।

बिहार में छठ के अंतिम दिन पसरा मातम, 26 की मौत

जानकारी के अनुसार, समस्तीपुर के रामभद्रपुर स्टेशन के पास छठ पूजा कर लौट रहीं 6 महिलाएं ट्रेन की चपेट में आकर कट गईं। घटना के बाद लोगों का आक्रोश फूट पड़ा है। प्रदर्शनकारियों में छठ घाटों से लौट रहे लोग शाामिल हो गए। आक्रोशित लोगों ने दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन रोक दिया।

वहीं दूसरी तरफ छठ पूजा के दौरान अलग-अलग जगहों पर14 बच्चों सहित 20 लोग डूब गए। कई जगह मौके पर गोताखोरों के रहने के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका। जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा व मनिसारी में क्रमश: दो व पांच बच्चे डूब गए।

खगड़‍िया के चौथम स्थित भरपुरा घाट पर भी तीन बच्चे बागमती नदी की तेज घार में बह गए। उनकी मौत हो गई। बच्चे गहरी नदी में जाकर तैर रहे थे। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि पहले एक बच्चा नदी मेंं गिरा, जिसे बचाने की कोशिश में दो और बच्चे नदी में बह गए। पूर्णिया में भी एक बच्चे के डूबने की खबर मिली है।

इस बीच पटना के बाढ़ में मलाही गंगा घाट पर पांच बच्चे नदी में लापता हो गए, जिनमें तीन को बच लिया गया। शेष दो बच्चे डूब गए।

उधर, बेगूसराय के कुर्था स्थित मानिकपुर में अर्घ्य देने के दौरान एक युवक की डूबने से मौत हो गई। अरवल में भी अर्घ्य के दौरान एक व्यक्ति के डूबने की खबर मिली है। गया में भी आज एक युवक की डूबने से मौत हो गई।

उधर, समस्तीपुर में एक अन्य घटना में छठ से लौटते वक्त कार की टक्कर से एक बच्चा घायल हो गया। गंभीर हालत में उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना मुफस्सिल थाना क्षेत्र के चंदोपट्टी में हुई।

छठ पर्व के दौरान समस्तीपुर के साढ़ी घाट पर दो पक्षों के विवाद में गोलीबारी भी हो गई। घटना में ऐ युवक घायल हो गया, जिसे दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा गया है।

You May Also Like

English News