बीजेपी के नेताओं के बेतुके बयान, पीएम मोदी भी शामिल

सत्ता के दम्भ में चूर बीजेपी नेता कब क्या कह जाये कोई भरोसा नहीं. अपनी उल जुलूल बयानबाजियों को लेकर आला कमान का सिरदर्द बन चुके कई नेता तो सिर्फ बेतुके बयानों के कारण ही सुर्खियों में रहते है. इनमे भी उत्तर प्रदेश के नेता दुसरो से और भी आगे है. अब उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा शुक्रवार को दिए अपने एक बयान की वजह से सुर्खियों में आ गए. मथुरा में एक कार्यक्रम में संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सीता जी का जन्म मिट्टी के बर्तन से हुआ था, यानी उस समय भी टेस्ट ट्यूब से बच्चे पैदा करने का चलन था. यही नहीं दिनेश शर्मा ने कहा कि सीता जी भी टेस्ट ट्यूब बेबी हो सकती हैं. अपने संबोधन में दिनेश शर्मा ने महाभारत और रामायण काल की तकनीक का जमकर बखान करते हुए नारद मुनि को पहला पत्रकार बताया. साथ ही उन्होंने दावा किया कि गुरुत्वाकर्षण शक्ति, प्लास्टिक सर्जरी और परमाणु की खोज भी कहीं और नहीं बल्कि भारत में हुई थी. यह पहला मौका नहीं है जब हिन्दू की पार्टी कहलाने वाली बीजेपी के नेताओ ने पौराणिक कथाओ का मजाक बनाया हो. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत बीजेपी के नेताओं के उलटे सीधे बयान देखिये एक साथ .विधायक ज्ञानदेव आहूजा राजस्थान से बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने तो भगवान हनुमान को लेकर एक बयान दिया. उन्होंने हनुमान को पहला आदिवासी नेता करार दिया है. आहूजा ने कहा, 'इस धरती पर प्रथम आदिवासी नेता हनुमान हुए हैं. सबसे ज्यादा मंदिर भी हनुमान जी के हैं, हमें उनका असम्मान नहीं करना चाहिए.' यही नहीं, गोहत्या को लेकर भी उन्होंने विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि गोहत्या और गाय की तस्करी में शामिल लोगों को भी जानवरों की तरह मार दिया जाना चाहिए. अहूजा जेएनयू में रोज 3000 कंडोम मिलने का दावा भी कर चुके है. साथ ही उन्होंने कहा था वह अपने दावे को साबित करने के लिए जल्द ही सबूत सामने लेकर आएंगे. यही नहीं अहूजा तो जेएनयू कैंपस में रोजाना 50 हजार हड्डी के टुकड़े, 500 इस्तेमाल किए हुए अबॉर्शन इंजेक्शन हर रोज 10 हजार सिगरेट के बट मिलने का दावा भी कर चुके हैं.  राजस्थान के शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी राजस्थान के शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत पर ही दावा जता दिया था. उन्होंने कहा था कि, 'हम सबने पढ़ा है कि गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत न्यूटन ने दिया था, लेकिन गहराई में जानने पर पता चलेगा कि गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत न्यूटन से एक हजार वर्ष पूर्व ब्रह्मगुप्त द्वितीय ने दिया था.' देवनानी का मानना है कि अंग्रेजों के बताए विज्ञान और इतिहास में भारत में हुए खोज और शोध को जगह नहीं दी गई है जिसे अब दी जानी चाहिए.  डॉ. हर्षवर्धन देश के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बीते दिनों दावा किया था कि महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग भारतीय वेदों को अल्बर्ट आइंस्टाइन की महान थिअरी और सिद्धांत E=mc2 से काफी बेहतर मानते थे. हालांकि, जब हर्षवर्धन से इस दावे का प्रमाण मांगा गया, तो उन्होंने कहा, 'आप लोग स्रोत ढूंढें. इस बात का रिकॉर्ड है कि स्टीफन ने कहा था कि वेदों में आइंस्टाइन के दिए फॉर्म्युले से बेहतर फॉर्म्युला है.   बीजेपी विधायक गोपाल परमार मध्य प्रदेश के आगर मालवा से बीजेपी विधायक गोपाल परमार ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि बाल विवाह पर अंकुश लगने के बाद से ही लव जेहाद शुरू हो गया है. साथ ही उन्होंने बाल विवाह के फायदे भी गिना डाले. कार्यक्रम में महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा, 'पहले गांव में बच्चों की शादी बचपन में हो जाती थी, तो उस व्यक्ति की मानसिकता सुरक्षित हो जाती थी, आज अगर किसी की शादी सही समय पर नहीं होती, वो भटक जाता है और फिर लव जेहाद जैसी घटनाएं होती हैं.'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2014 में एक निजी अस्पताल का उद्घाटन करते हुए कहा था कि, ‘विश्व को प्लास्टिक सर्जरी का कौशल भारत की देन है. दुनिया में सबसे पहले गणेश जी की प्लास्टिक सर्जरी हुई थी, जब उनके सिर की जगह हाथी का सिर लगा दिया गया था.’

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लव देब
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लव देब इस साल मुख्यमंत्री बनने के बाद अपनों कामों से नहीं बल्कि बयानों से चर्चा में आए. देब ने एक कार्यक्रम में कहा कि महाभारत के दौर में भी इंटरनेट था. संजय ने हस्तिनापुर में बैठकर धृतराष्ट्र को बताया था कि कुरुक्षेत्र के मैदान में क्या हो रहा है. इसका मतलब है कि उस समय भी तकनीक, इंटरनेट और सैटेलाइट था. इसके अलावा बिप्लव ने सौंदर्य प्रतियोगिताओं पर भी सवाल खड़े किए हैं. उन्‍होंने डायना हेडन को मिस वर्ल्‍ड का खिताब दिए जाने पर सवाल उठाया. उनका कहना था कि डायना हेडन की जीत फिक्स थी. वहीं, उन्होंने ऐश्वर्या राय की तारीफ करते हुए कहा, सही मायने में ऐश्‍वर्या भारतीय महिलाओं की नुमाइंदगी करती हैं.

सत्यपाल सिंह 
मोदी सरकार में मंत्री और पूर्व IPS ऑफिसर सत्यपाल सिंह तो विज्ञान पर सवाल खड़े कर चुके हैं. एक कार्यक्रम में उन्होंने दावा किया था कि मानव के क्रमिक विकास का चार्ल्स डार्विन का सिद्धांत ‘वैज्ञानिक रूप से गलत है’ और स्कूल व कॉलेज पाठ्यक्रम में इसे बदलने की जरूरत है. वैज्ञानिक जगत की तीखी प्रतिक्रिया और बयान की कड़ी आलोचना के बाद सरकार को इस बयान पर सफाई देनी पड़ी थी. सत्यपाल सिंह ने IIT छात्रों को कहा था कि पुष्पक विमान से ही दुनिया में विमान बनाने का आइडिया आया. उन्होंने कहा कि ‘राइट ब्रदर्स’ से पहले ही एक भारतीय शिवकर बाबुजी तलपड़े ने एयरप्लेन का आविष्कार कर दिया था. कहा जाता है कि तलपड़े ने वैदिक ग्रंथों से ही सबसे पहले एयरक्राफ्ट का आइडिया दिया था. दावा किया जाता है कि तलपड़े ने साल 1895 में मुंबई के जूहू बीच पर भीड़ के सामने इसका प्रदर्शन भी किया था. वहां बड़ोदा के राजा भी मौजूद थे. एयरक्राफ्ट 1500 फीट की ऊंचाई पर गया था और वहां कुछ मिनट रुका.

विधायक ज्ञानदेव आहूजा
राजस्थान से बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने तो भगवान हनुमान को लेकर एक बयान दिया. उन्होंने हनुमान को पहला आदिवासी नेता करार दिया है. आहूजा ने कहा, ‘इस धरती पर प्रथम आदिवासी नेता हनुमान हुए हैं. सबसे ज्यादा मंदिर भी हनुमान जी के हैं, हमें उनका असम्मान नहीं करना चाहिए.’ यही नहीं, गोहत्या को लेकर भी उन्होंने विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि गोहत्या और गाय की तस्करी में शामिल लोगों को भी जानवरों की तरह मार दिया जाना चाहिए. अहूजा जेएनयू में रोज 3000 कंडोम मिलने का दावा भी कर चुके है. साथ ही उन्होंने कहा था वह अपने दावे को साबित करने के लिए जल्द ही सबूत सामने लेकर आएंगे. यही नहीं अहूजा तो जेएनयू कैंपस में रोजाना 50 हजार हड्डी के टुकड़े, 500 इस्तेमाल किए हुए अबॉर्शन इंजेक्शन हर रोज 10 हजार सिगरेट के बट मिलने का दावा भी कर चुके हैं.

राजस्थान के शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी
राजस्थान के शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत पर ही दावा जता दिया था. उन्होंने कहा था कि, ‘हम सबने पढ़ा है कि गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत न्यूटन ने दिया था, लेकिन गहराई में जानने पर पता चलेगा कि गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत न्यूटन से एक हजार वर्ष पूर्व ब्रह्मगुप्त द्वितीय ने दिया था.’ देवनानी का मानना है कि अंग्रेजों के बताए विज्ञान और इतिहास में भारत में हुए खोज और शोध को जगह नहीं दी गई है जिसे अब दी जानी चाहिए.

डॉ. हर्षवर्धन
देश के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बीते दिनों दावा किया था कि महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग भारतीय वेदों को अल्बर्ट आइंस्टाइन की महान थिअरी और सिद्धांत E=mc2 से काफी बेहतर मानते थे. हालांकि, जब हर्षवर्धन से इस दावे का प्रमाण मांगा गया, तो उन्होंने कहा, ‘आप लोग स्रोत ढूंढें. इस बात का रिकॉर्ड है कि स्टीफन ने कहा था कि वेदों में आइंस्टाइन के दिए फॉर्म्युले से बेहतर फॉर्म्युला है.

 बीजेपी विधायक गोपाल परमार
मध्य प्रदेश के आगर मालवा से बीजेपी विधायक गोपाल परमार ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि बाल विवाह पर अंकुश लगने के बाद से ही लव जेहाद शुरू हो गया है. साथ ही उन्होंने बाल विवाह के फायदे भी गिना डाले. कार्यक्रम में महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘पहले गांव में बच्चों की शादी बचपन में हो जाती थी, तो उस व्यक्ति की मानसिकता सुरक्षित हो जाती थी, आज अगर किसी की शादी सही समय पर नहीं होती, वो भटक जाता है और फिर लव जेहाद जैसी घटनाएं होती हैं.’

 

You May Also Like

English News