बीजेपी को यूपी में मिला बहुमत तो ये हो सकते हैं मुख्यमंत्री

पांच राज्यों सहित यूपी में चुनाव संपन्न हो चुका है. 11 मार्च की दोपहर तक स्थिति पूरी तरह से साफ हो जाएगा. हालांकि एग्जिट पोल्स के मुताबिक यूपी में बीजेपी को भारी जीत मिल रही है. ऐसे में यह कयास भी लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी के इन छ नेताओं में से ही कोई एक यूपी का सीएम बनेगा.

राजनाथ सिंह 

अगर बीजेपी को यूपी में अपने दम पर पूर्ण बहुमत मिलता है तो केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह मुख्यमंत्री के एक अहम दावेदार हो सकते हैं. लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह ने यूपी के सबसे कद्दावर नेताओं में से एक हैं. उन्होंने मार्च 2002 में मुख्यमंत्री के पद से त्यागपत्र दिया था. मुख्यमंत्री पद छोड़ने के बाद से राजनाथ सिंह राष्ट्रीय राजनीति में सक्रीय हैं.दो बार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे राजनाथ सिंह इस बार के चुनाव में पार्टी के स्टार प्रचारकों में से एक थे. चुनाव प्रचार के दौरान राजनाथ सिंह सूबे में 26 दिनों तक जमे रहे और इस दौरान उन्होंने 120 जनसभाओं को संबोधित किया है.

केशव प्रसाद मौर्य
बीजेपी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या का नाम पूरे चुनाव प्रचार के दौरान चर्चा में रहा. मौर्या राज्य में ओबीसी वर्ग का चेहरा माने जाते हैं. भावी मुख्यमत्री की रेस में फुलपुर से पहली बार चुने गए सांसद और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या का नाम भी शामिल है.

इस चुनाव में केशव प्रसाद मौर्या अपनी पार्टी के दूसरे नेताओं के मुकाबले मंच पर कम दिखे. बताया जा रहा है कि ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि मौर्या पर्दे के पीछे रहकर पार्टी की दूसरी महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां संभाल रहे थे.

हालांकि, केशव प्रसाद मौर्य के लिए जो सबसे कमजोर कड़ी है वो ये कि उनके पास प्रशासकीय अनुभव न के बराबर है.

योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ गोरखपुर की गोरक्षा पीठ के महंत हैं . यहां से 5 बार संसद पहुंच चुके हैं. योगी आदित्यनाथ को बीजेपी में उग्र हिंदूत्वा व्रिगेड का नेता माना जाता है. इस चुनाव के दौरान योगी आदित्यनाथ जहां-जहांगए वहां-वहां उन्हें मुख्यमंत्री बनाने वाले बैनर-पोस्टर लहराए गए. ऐसा माना जा रहा है कि यूपी की जनता का एक वर्ग योगी आदित्यनाथ को राज्य का अगला सीएम बनते हुए देखना चाहता है. खुद योगी आदित्यनाथ ने कई बार यह कहा कि वो मुख्यमंत्री के उम्मीदवार हो सकते हैं.

उमा भारती
केंद्रीय मंत्री उमा भारती का नाम भी राज्य में सीएम कैंडिडेट के लिए चल रहा है. उमा भारती पार्टी की सीनियर नेता हैं और केंद्र में मंत्री हैं. उमा भारती मध्यप्रदेश की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं और इन्हें राज्य में शासन चलाने का अनुभव भी है. अगर बीजेपी राज्य में एक महिला मुख्यमंत्री बनाना चाहेगी तो उमा भारती पार्टी की पहली पसंद होंगी.

सिद्धार्थ नाथ सिंह
पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह का नाम मुख्यमंत्री वाले लिस्ट में प्रमुखता से लिया जा रहा है. इस चुनाव में इलाहाबाद पश्चिम विधानसभा सीट से लड़ रहे हैं. सिद्धार्थ के अंकल चौधरी नौनिहाल सिंह इसी विधानसभा क्षेत्र से 3 बार विधायक रह चुके हैं.

You May Also Like

English News