बीसीसीआई ने किया ऐलान- कोच पद के लिए सबसे राइट च्वाइस हैं रवि शास्त्री…

एक लंबे इंतजार के बाद भारतीय टीम को अपना कोच मिल गया है. मंगलवार को बीसीसीआई ने ऐलान किया कि रवि शास्त्री 2019 विश्वकप तक कोच रहेंगे. रवि के अलावा ज़हीर खान को बॉलिंग कोच और विदेशी दौरो पर राहुल द्रविड़ को बल्लेबाजी सलाहकार की भूमिका दी गई है. रवि शास्त्री शुरू से ही इस दौड़ में सबसे आगे चल रहे थे, वो विराट कोहली की भी पहली पसंद थे.एक लंबे इंतजार के बाद भारतीय टीम को अपना कोच मिल गया है. मंगलवार को बीसीसीआई ने ऐलान किया कि रवि शास्त्री 2019 विश्वकप तक कोच रहेंगे. रवि के अलावा ज़हीर खान अभी अभी: दिल्ली एयरपोर्ट से खूंखार आतंकी ISIS का संदिग्ध को किया गिरफ्तार, फेक पासपोर्ट बरामद

मानो या मानो शास्त्री ही हैं परफेक्ट!

रवि शास्त्री इससे पहले भी 2014 में भारतीय टीम के डॉयरेक्टर के रूप में काम कर चुके हैं. उनकी अगुवाई में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन भी किया था. विराट कोहली और रवि शास्त्री के बीच काफी अच्छी केमेस्ट्री है, तो टीम के प्रदर्शन और माहौल के हिसाब से रवि शास्त्री ही बेस्ट च्वाइस हैं.

स्त्री खिलाड़ियों से ज्यादा फ्रैंक हैं. खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करने में रवि शास्त्री कभी पीछे नहीं हटते हैं. शास्त्री हमेशा ही खिलाड़ियों के साथ खड़े नज़र आए हैं. 2019 विश्वकप को मद्देनज़र रखते हुए देखें तो युवा टीम के लिए शास्त्री जैसे कोच की सख्त जरूरत थी.

सामने वाली टीम की कर देंगे बोलती बंद

रवि शास्त्री अपनी हर बात को दिल खोल कर रखते हैं. वहीं विरोधी टीम को भी रवि शास्त्री मुंहतोड़ जवाब देते हैं. जब वह टीम के डॉयरेक्टर थे उस समय भी हमें ऐसी कई बातें देखने को मिली थी. शास्त्री ने उस दौरान भी ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर विरोधी टीम को ‘जैसे को तैसे’ की नीति से जवाब दिया था. शास्त्री की अगुवाई में उम्मीद की जा सकती है कि टीम इंडिया आक्रामक क्रिकेट ही खेलेगी.

काम बोलता है!

1. 2014 में इंग्लैंड से 1-3 से सीरीज हारने के बाद शास्त्री टीम इंडिया के डायरेक्टर बने थे. इसके बाद अचानक ही टीम का भाग्य बदल गया. शास्त्री के मार्गदर्शन में भारत ने 2014 में इंग्लैंड के खिलाफ उसकी सरजमीं पर वनडे सीरीज जीती.

2. शास्त्री ने टीम को वर्ल्ड कप 2015 के सेमीफाइनल तक पहुंचाया. टीम इंडिया मार्च 2016 में टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल तक भी पहुंची.

3. टीम इंडिया ने श्रीलंका में टेस्ट सीरीज 2-1 जीतने के साथ दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज 3-0 से जीती और आस्ट्रेलिया में टी20 सीरीज 3-0 से जीती. जब टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्हीं के देश में टी20 सीरीज में ऐतिहासिक क्लीन स्वीप किया था.

4. हालांकि शास्त्री की कोचिंग में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2014 में खेली गई टेस्ट सीरीज 2-1 से हारी थी. साथ ही 2015 में बांग्लादेश से वनडे सीरीज 2-1 से हार गई थी. इसके अलावा टीम इंडिया 2015 के वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया से सेमीफाइनल में हार गई. वहीं 2016 में अपनी ही धरती पर खेले गए वर्ल्ड टी20 में टीम इंडिया वेस्टइंडीज से सेमीफाइनल मुकाबले में हार कर बाहर हो गई.

You May Also Like

English News