बेटी ने कराया पिता को स्तनपान..!

दुनिया मे ना जाने कितने ही किस्से और कहानियां हैं जिनके बारे मे आप सभी ने सुना होगा, पढ़ा होगा, देखा भी होगा, लेकिन आज हम जिस किस्से के बारे मे आपसे जिक्र करने जा रहे हैं वह ना आपने पढ़ा होगा, न सुना होगा, ना ही देखा होगा. जी हाँ, एक ऐसा किस्सा जो आपको हैरानी मे लाकर खड़ा कर देगा. दरअसल हम बात कर रहें हैं यूरोप की, जहाँ की एक पेंटिंग इन दिनों काफी सुर्ख़ियों मे हैं. वह पेंटिंग जितनी सुंदर और पवित्र हैं उसके पीछे की कहानी उससे भी कई ज्यादा दिलचस्प और शानदार हैं. यह पेंटिंग यूरोप के प्रसिद्ध कलाकार बारतोलोमिओ एस्तेबन मुरिलो ने बनाई थीं और यह उस समय से लेकर अब तक की सबसे ज्यादा चर्चाओं मे रहीं पेंटिंग हैं. इस पेंटिंग मे एक लड़की एक बूढ़े व्यक्ति को स्तनपान करवा रहीं हैं. जब यह पेंटिंग मार्केट मे आई थी तब बहुत तेजी से सुर्ख़ियों मे आई थी लेकिन उसके पीछे की कहानी बहुत कम लोग जानते थे.दुनिया मे ना जाने कितने ही किस्से और कहानियां हैं जिनके बारे मे आप सभी ने सुना होगा, पढ़ा होगा, देखा भी होगा, लेकिन आज हम जिस किस्से के बारे मे आपसे जिक्र करने जा रहे हैं वह ना आपने पढ़ा होगा, न सुना होगा, ना ही देखा होगा. जी हाँ, एक ऐसा किस्सा जो आपको हैरानी मे लाकर खड़ा कर देगा. दरअसल हम बात कर रहें हैं यूरोप की, जहाँ की एक पेंटिंग इन दिनों काफी सुर्ख़ियों मे हैं. वह पेंटिंग जितनी सुंदर और पवित्र हैं उसके पीछे की कहानी उससे भी कई ज्यादा दिलचस्प और शानदार हैं. यह पेंटिंग यूरोप के प्रसिद्ध कलाकार बारतोलोमिओ एस्तेबन मुरिलो ने बनाई थीं और यह उस समय से लेकर अब तक की सबसे ज्यादा चर्चाओं मे रहीं पेंटिंग हैं. इस पेंटिंग मे एक लड़की एक बूढ़े व्यक्ति को स्तनपान करवा रहीं हैं. जब यह पेंटिंग मार्केट मे आई थी तब बहुत तेजी से सुर्ख़ियों मे आई थी लेकिन उसके पीछे की कहानी बहुत कम लोग जानते थे.    क्या हैं कहानी- आज हम उसके पीछे की कहानी आपको बताते हैं. दरअसल यह कहानी बहुत पुराने समय की है. यूरोप मे रहने वाले एक बूढ़े व्यक्ति को बिना किसी अपराध के जेल मे बंद कर भूखा रहने की सजा सुनाई गईं थीं और काफी अनुरोधों के बाद उस बुजुर्ग व्यक्ति की बेटी को उनसे मिलने की आज्ञा दी गई थी. लड़की हर दिन अपने पिता से मिलने जाती थी लेकिन उसके पहले उसकी चेकिंग की जाती थी कि कहीं वह अपने साथ कोई खाने का सामान तो नहीं ले जा रहीं. चेकिंग के बाद लड़की को अंदर भेजा जाता था. धीरे-धीरे बुजुर्ग पिता की हालत खराब होने लगी और लड़की से यह देखा ना गया लेकिन वह क्या करती उसे पिता के पास कुछ ना ले जाने की सलाह दी गईं थीं.    लड़की ने क्या किया- कई समय तक परेशान होने की वजह से एक दिन लड़की के दिमाग मे एक तरकीब आई जो उसे पाप और पुण्य दोनों ही करने को मजबूर कर रहीं थीं. उस समय बेटी के मन मे केवल एक ख्याल आया जो यह था कि वह अपने पिता को अपना स्तनपान करवा सकती थीं और उसने ऐसा ही किया. लड़की हर दिन पिता के पास जाती और उन्हें स्तनपान करवाती. एक दिन लड़की को स्तनपान करवाते हुए पहरेदारों ने देख लिया और राजा के सामने पेश किया. राजा और समाजवालों मे कुछ लोग इस बात को गंदी नजरों से देख रहें थे वहीं कुछ लोगों ने कहा कि यह पिता और बेटी का प्रेम हैं जिसके लिए बेटी ने ऐसा किया. इन सभी के बाद बुजुर्ग को रिहा कर दिया गया और उस समय यह घटना बहुत पॉपुलर हुई. उस समय के चित्रकारों ने इस घटना का चित्रण अपनी पेंटिंग्स मे किया जो आज भी पॉपुलर हैं. आज भी यह पेंटिंग बहुत पॉपुलर हैं.

क्या हैं कहानी- आज हम उसके पीछे की कहानी आपको बताते हैं. दरअसल यह कहानी बहुत पुराने समय की है. यूरोप मे रहने वाले एक बूढ़े व्यक्ति को बिना किसी अपराध के जेल मे बंद कर भूखा रहने की सजा सुनाई गईं थीं और काफी अनुरोधों के बाद उस बुजुर्ग व्यक्ति की बेटी को उनसे मिलने की आज्ञा दी गई थी. लड़की हर दिन अपने पिता से मिलने जाती थी लेकिन उसके पहले उसकी चेकिंग की जाती थी कि कहीं वह अपने साथ कोई खाने का सामान तो नहीं ले जा रहीं. चेकिंग के बाद लड़की को अंदर भेजा जाता था. धीरे-धीरे बुजुर्ग पिता की हालत खराब होने लगी और लड़की से यह देखा ना गया लेकिन वह क्या करती उसे पिता के पास कुछ ना ले जाने की सलाह दी गईं थीं.

लड़की ने क्या किया- कई समय तक परेशान होने की वजह से एक दिन लड़की के दिमाग मे एक तरकीब आई जो उसे पाप और पुण्य दोनों ही करने को मजबूर कर रहीं थीं. उस समय बेटी के मन मे केवल एक ख्याल आया जो यह था कि वह अपने पिता को अपना स्तनपान करवा सकती थीं और उसने ऐसा ही किया. लड़की हर दिन पिता के पास जाती और उन्हें स्तनपान करवाती. एक दिन लड़की को स्तनपान करवाते हुए पहरेदारों ने देख लिया और राजा के सामने पेश किया. राजा और समाजवालों मे कुछ लोग इस बात को गंदी नजरों से देख रहें थे वहीं कुछ लोगों ने कहा कि यह पिता और बेटी का प्रेम हैं जिसके लिए बेटी ने ऐसा किया. इन सभी के बाद बुजुर्ग को रिहा कर दिया गया और उस समय यह घटना बहुत पॉपुलर हुई. उस समय के चित्रकारों ने इस घटना का चित्रण अपनी पेंटिंग्स मे किया जो आज भी पॉपुलर हैं. आज भी यह पेंटिंग बहुत पॉपुलर हैं.

You May Also Like

English News