बैंक धोखाधड़ी करने वालों के पासपोर्ट रद्द हों – ED

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक बार फिर विदेश मंत्रालय से बैंक को धोखा दे कर देश से भागने वाले नितिन  और चेतन संदेसरा का पासपोर्ट रद्द करने की मांग की है.ये दोनों अभियुक्त आंध्र बैंक से करीब 10 हजार करोड़ रुपये का फर्जीवाड़ा करने के बाद परिवार सहित देश छोड़ कर भाग गए .बैंक धोखाधड़ी करने वालों के पासपोर्ट रद्द हों - ED

जम्मू-कश्मीर: कुपवाड़ा में आतंकियों से मुठभेड़ में 5 सुरक्षाकर्मी शहीद, सर्च ऑपरेशन जारी

मिली जानकारी के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मुंबई के क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय (पीआरओ) में गत वर्ष अक्टूबर में ही पासपोर्ट रद्द करने को कहा था. हालांकि, पीआरओ की तरफ से अभियुक्त के पासपोर्ट रद्द नहीं किये .लेकिन जब हीरा व्यापारी नीरव मोदी सहित कई मामले सामने आने के बाद केन्द्रीय एजेंसियों को लगातार कई स्मरण पत्र विदेश मंत्रालय को देने पड़े हैं, ताकि फौरन कदम उठाया जा सके. जब से पीएनबी का घोटाला सामने आया है , उसके बाद से अन्य कई बैंकों के साथ की गई धोखाधड़ी के भी मामले सामने आने लगे है. हाल ही में एसबीआई के साथ  कनिष्क ज्वैलर्स द्वारा  854 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी किये जाने का मामला सामने आया है 

आपको जानकारी दे दें कि संदेसरा का नाम उन 31 हाई प्रोफाइल लोगों की सूची में शामिल है, जिनके आर्थिक अपराध केस की जांच एजेंसियों की तरफ से शुरुआत के बाद देश छोड़कर भाग गए. वडोदरा के व्यवसायी के खिलाफ जांच एजेंसी एक राजनेता के दामाद के साथ संबंधों की भी जांच कर रही है जो केस में अभियुक्तों में से एक बताया जा रहा है.

You May Also Like

English News