ब्राजील को हराकर बेल्जियम सेमीफाइनल में, अब मुकाबला फ्रांस से

कजान। दुनिया की तीसरे क्रम के बेल्जियम ने धमाकेदार खेल का प्रदर्शन कर फुटबॉल विश्व कप क्वार्टर फाइनल में दूसरे क्रम के ब्राजील को 2-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली। बेल्जियम का अब मंगलवार को सेंट पीटर्सबर्ग में होने वाले सेमीफाइनल में फ्रांस से मुकाबला होगा। बेल्जियम ने दूसरी बार सेमीफाइनल में प्रवेश किया।कजान। दुनिया की तीसरे क्रम के बेल्जियम ने धमाकेदार खेल का प्रदर्शन कर फुटबॉल विश्व कप क्वार्टर फाइनल में दूसरे क्रम के ब्राजील को 2-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली। बेल्जियम का अब मंगलवार को सेंट पीटर्सबर्ग में होने वाले सेमीफाइनल में फ्रांस से मुकाबला होगा। बेल्जियम ने दूसरी बार सेमीफाइनल में प्रवेश किया।  13वें मिनट में ब्राजील के रोलान्डिन्हो के आत्मघाती गोल से बेल्जियम को 1-0 की बढ़त मिली। इसके बाद 31वें मिनट में केविन डी ब्रूइन ने गोल दाग बेल्जियम को 2-0 की बढ़त दिलाई। ब्राजील की तरफ से रेनाटो अगस्टो ने 76वें मिनट में गोल दागा।  खेल के पहले हाफ के 13वें मिनट में ब्राजील ने बेल्जियम को गिफ्ट में गोल दे दिया। ब्राजील के आत्मघाती गोल से बेल्जियम 1-0 से आगे हो गई। दरअसल 13वें मिनट में बेल्जियम को कॉर्नर मिला और गेंद ब्राजील के फर्नांडिन्हो से टकराकर ब्राजील के गोल पोस्ट में चली गई। इसे बचाने के लिए ब्राजील के गोलकीपर एलिसन भी कुछ नहीं कर पाए। बेल्जियम की टीम के लिए दूसरा गोल खेल के 31वें मिनट में हुआ। केविन डी ब्रुइन ने दूर से शॉट मारकर ब्राजील के गोलकीपर को छकाते हुए गेंद को गोल पोस्ट तक पहुंचा दिया। ब्रुइन ने ये गोल 25 गज की दूरी से किया था। इस गोल में रोमेलू लुकाकू का बड़ा योगदान रहा क्योंकि ब्रुइन को पास उन्होंने ही दिया था। पहले हाफ में ब्राजील की तरफ से तमाम कोशिशों को बावजूद ये टीम एक भी गोल करने में कामयाब नहीं हो पाई और स्कोर उसके पक्ष में नहीं रहा यानी बेल्जियम 2-0 से आगे रहा।  कोटिन्हो ने 76वें मिनट में अगस्टो को बॉक्स के अंदर अकेले खड़े देखा और उन्हें सटीक पास दिया। अगस्टो ने गोल करने में कोई गलती नहीं की और स्कोर 2-1 हो गया। ब्राजील ने इसके बाद बराबरी पर आने के भरसक प्रयास किए, लेकिन उनके खिलाड़ी नाकाम रहे और बेल्जियम ने पांच बार के चैंपियन को हराते हुए दूसरी बार अंतिम चार में प्रवेश किया।

13वें मिनट में ब्राजील के रोलान्डिन्हो के आत्मघाती गोल से बेल्जियम को 1-0 की बढ़त मिली। इसके बाद 31वें मिनट में केविन डी ब्रूइन ने गोल दाग बेल्जियम को 2-0 की बढ़त दिलाई। ब्राजील की तरफ से रेनाटो अगस्टो ने 76वें मिनट में गोल दागा।

खेल के पहले हाफ के 13वें मिनट में ब्राजील ने बेल्जियम को गिफ्ट में गोल दे दिया। ब्राजील के आत्मघाती गोल से बेल्जियम 1-0 से आगे हो गई। दरअसल 13वें मिनट में बेल्जियम को कॉर्नर मिला और गेंद ब्राजील के फर्नांडिन्हो से टकराकर ब्राजील के गोल पोस्ट में चली गई। इसे बचाने के लिए ब्राजील के गोलकीपर एलिसन भी कुछ नहीं कर पाए। बेल्जियम की टीम के लिए दूसरा गोल खेल के 31वें मिनट में हुआ। केविन डी ब्रुइन ने दूर से शॉट मारकर ब्राजील के गोलकीपर को छकाते हुए गेंद को गोल पोस्ट तक पहुंचा दिया। ब्रुइन ने ये गोल 25 गज की दूरी से किया था। इस गोल में रोमेलू लुकाकू का बड़ा योगदान रहा क्योंकि ब्रुइन को पास उन्होंने ही दिया था। पहले हाफ में ब्राजील की तरफ से तमाम कोशिशों को बावजूद ये टीम एक भी गोल करने में कामयाब नहीं हो पाई और स्कोर उसके पक्ष में नहीं रहा यानी बेल्जियम 2-0 से आगे रहा।

कोटिन्हो ने 76वें मिनट में अगस्टो को बॉक्स के अंदर अकेले खड़े देखा और उन्हें सटीक पास दिया। अगस्टो ने गोल करने में कोई गलती नहीं की और स्कोर 2-1 हो गया। ब्राजील ने इसके बाद बराबरी पर आने के भरसक प्रयास किए, लेकिन उनके खिलाड़ी नाकाम रहे और बेल्जियम ने पांच बार के चैंपियन को हराते हुए दूसरी बार अंतिम चार में प्रवेश किया।

You May Also Like

English News