ब्रेकिंग न्यूज़: सीएम योगी के इस बड़े फ़ैसले ने, अखिलेश के सपनों पर फेरा पानी…

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सत्ता संभालने के बाद से अब तक बहुत सारे फैसले लिए हैं। अभी तक सीएम योगी ने जितने भी फैसले लिए वो कानून व्यवस्था और सामान्य प्रशासन से संबंधित थे। पहली बार उन्होंने कोई ऐसा फैसला लिया है जिसके बाद यूपी की सियासत गरमा सकती है। जी हां योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव की तस्वीर वाले राशन कार्डों को वापस लेने का करने का फैसला लिया है। बता दें कि इन सभी राशन कार्डों पर अखिलेश यादव की तस्वीर लगी हुई है। इस तरह से लगभग 2 करोड़ 80 लाख राशन कार्ड वापस लिए जाएंगे। इनकी जगह जनता को स्मार्ट राशन कार्ड दिए जाएंगे। जिनमें बार कोड होगा और जो पैन कार्ड की तरह होंगे।आपको जानकारी दे दें कि अखिलेश यादव ने नए राशन कार्ड जारी किए थे। इन राशन कार्डों पर अखिलेश की फोटो लगी हुई थी। अखिलेश की फोटो वाले करीब 3 करोड़ राशन कार्ड बांटे गए थे। इतना ही नहीं, अखिलेश की फोटो वाले 3 करोड़ 40 लाख राशन कार्ड छापे गए थे। जिसमें से 2 करोड़ 80 लाख राशन कार्ड जनता को बांटे गए थे। 60 लाख राशन कार्ड बांटने पर रोक लगा दी है। सीएम योगी के फैसले के बाद खाद्य और उपभोक्ता विभाग ने राशन कार्ड वापस लेने की कवायद शुरू कर दी है। पुराने कार्ड की जगह लेने वाले नए राशन कार्ड का बार कोड आधार से लिंक होगा जिससे उपभोक्ताओं के बारे में जानकारी रखी जा सकेगी और पीडीएस सिस्टम में होने वाली धांधली पर लगाम लगेगी। योगी सरकार के इस फैसले से समाजवादी पार्टी नाराज हो सकती है।

गौरतलब है कि 19 मार्च को सीएम पद की शपथ लेने के बाद से अब तक मुख्यमंत्री योगी लगभग 50 आदेश जारी कर चुके हैं। योगी आदित्यनाथ ने अब तक जितने फैसले लिए हैं उनमें खास तौर पर  अवैध बूचड़खानों पर बैन, एंटी-रोमियो स्क्वॉड के गठन की चर्चा ज्यादा है। इसके साथ ही उन्होंने राज्य की कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए सख्त पुलिसिंग का आदेश दिया है। इसी के साथ उन्होंने सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए भी निर्देश जारी किए हैं कि वो समय पर दफ्तर पर आएं। इसको सुनिश्चित करने के लिए सरकारी दफ्तरों में बायोमीट्रिक सिस्टम लगाने के आदेश भी दिए हैं। इस से सरकारी दफ्तरों में फरियाद ले कर आने वाले लोग काफी राहत महसूस कर रहे हैं। अधिकारी और कर्मचारी समय पर दफ्तर आ रहे हैं।

इस के अलावा सीएम योगी ने सरकारी दफ्तरों में पान और गुटखा खाने पर भी बैन लगा दिया है। साफ सफाई को लेकर योगी आदित्यनाथ के फैसलों की जनता भी तारीफ कर रही है। योगी ने कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जाने वाले लोगों की सब्सिडी को बढ़ाकर एक लाख रूपये कर दिया है। इसी के साथ गाजियाबाद या नोएडा में मानसरोवर भवन बनाने का भी फैसला किया है। कुल मिलाकर योगी आदित्यनाथ लगातार ऐसे फैसले ले रहे हैं जिनका सरोकार सीधे जनता से जुड़ा हुआ है। वो जनता को राहत देने वाले फैसले कर रहे हैं। कानून व्यवस्था से लेकर सड़कों की हालत तक उनके सारे फैसले जनता को पसंद आ रहे हैं। यही कारण है कि वो लगातार चर्चा में बने हुए हैं। अपनी छवि के विपरीत योगी एक अनुभवी प्रशासक की तरह फैसले ले रहे हैं।

You May Also Like

English News