ब्लू व्हेल गेम का कहर: लास्ट स्टेज में कैश के लिए ट्रेन के आगे कूदा छात्र…

खूनी खेल ब्लू व्हेल गेम का कहर यूपी के शामली में देखने को मिली है. यहां इस खौफनाक खेल के चक्कर में 7वीं क्लास में पढ़ने वाले एक छात्र ने ट्रेन से कट कर अपनी जान दे दी. उसका शव रेलवे ट्रैक के किनारे पड़ा हुआ मिला. सूचना मिलते ही परिजन और पुलिस मौके पर पहुंचे. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है.ब्लू व्हेल गेम का कहर: लास्ट स्टेज में कैश के लिए ट्रेन के आगे कूदा छात्र...सिर्फ चेन्नई एक्सप्रेस के प्रोड्यूसर ही नहीं, ये 6 बॉलीवुड स्टार पहुंचे जेल…

जिले के कांधला इलाके के एलम गांव का रहने वाला निशांत एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ता था. एक अन्य छात्र ने बताया कि निशांत कुछ दिनों से ब्लू व्हेल गेम खेल रहा था. उसने गेम की 48 स्टेज पार कर ली थी. वह 49वें स्टेज पर था. इसे पार करने के लिए उसे ट्रेन के सामने कूदना था, जिसके बदले ज्वैलरी मिलने की बात कही गई थी.

उक्त छात्र ने बताया कि वह भी उस खेल में शामिल था. उसके तीन दोस्त यह गेम खेल रहे थे. इसमें वह 28वें, दूसरा 23वें और निशांत 49वें स्टेज पर था. बताया जा रहा है कि ब्लू व्हेल गेम में कुल 50 स्टेज होते है. इसके लास्ट स्टेज पर खुदकुशी करने का टास्क दिया जाता है. पुलिस ने छात्र का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजकर जांच करने में जुट गई है.

ब्लू व्हेल गेम को प्रतिबंधित करने के निर्देश 

बताते चलें कि उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने ब्लू व्हेल गेम को प्रतिबंधित किए जाने के संबंध में सभी पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए थे. उन्होंने अभिभावकों को बच्चों की काउंसलिंग कराने को कहते हुए गेम के एडमिनिस्ट्रेटर के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. इस पर पूरे यूपी में अलर्ट जारी किया चुका है.

सोशल मीडिया प्लेटफार्म से हटाने के आदेश

केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने ब्लू व्हेल गेम के कारण बच्चों द्वारा आत्महत्या करने के मामलों को गंभीरतापूर्वक लेते हुए सोशल मीडिया प्लेटफार्म गूगल, फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, माइक्रोसाफ्ट, याहू को अपने प्लेटफार्म से गेम या उससे मिलते जुलते किसी गेम के लिंक को तत्काल प्रभाव से हटाने के लिए गंभीरता पूर्वक निर्देशित किया है.

You May Also Like

English News