#बड़ा खुलासा: इस गेंदबाज की नजर में सचिन तेंदुलकर से भी खौफनाक था कोई और…

टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज और मौजूदा आईसीसी मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ ने हाल ही में उस बल्लेबाज के नाम का खुलासा किया है, जिसके सामने गेंदबाजी करना उनके लिए सबसे मुश्किल होता था। भारतीय क्रिकेट के दोनों फॉर्मेटों में श्रीनाथ का 12 साल का काफी लंबा अनुभव रहा है।#बड़ा खुलासा: इस गेंदबाज की नजर में सचिन तेंदुलकर से भी खौफनाक था कोई और...

INDvAUS: गुवाहाटी टी-20 में टीम इंडिया की हुई करारी हार, ये रहे मैच के 5 मुजरिम

48 वर्षीय श्रीनाथ ने इंटरनेशनल कहा, ‘श्रीलंका के पूर्व कप्तान अरविंदा डी सिल्वा उन सभी बल्लेबाजों में से सर्वश्रेष्ठ हैं जिनके सामने उन्हें गेंदबाजी करने का मौका मिला। साथ ही श्रीनाथ ने ये भी कहा कि सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ को नेट में गेंदबाजी कराना किसी चुनौती से कम नहीं होता था।’

 

श्रीनाथ ने कहा, ‘वो दोनों गेंदबाजों का पूरा फायदा उठाते थे। यदि आप अपनी काबिलियत परखना चाहते हैं तो आप उनके सामने गेंदबाजी कराएं। अगर आप की फॉर्म थोड़ी खराब है तो उनके सामने गेंदबाजी करने में आपको काफी परेशानी होगी। वैसे मुझे श्रीलंका के अरविंदा डी सिल्वा सबसे अच्छे बल्लेबाज लगते थे। साथ ही ब्रायन लारा और रिकी पॉन्टिंग भी दिग्गज बल्लेबाज थे।’  
 

गौरतलब हो कि श्रीनाथ ने 2003 विश्व कप के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। वहीं, 2006 में उन्होंने आईसीसी मैच रेफरी के पद पर काम करना शुरू कर दिया। बतौर रेफरी उनकी पहली सीरीज कोलंबो में साउथ अफ्रीका और श्रीलंका के बीच खेली गई थी। 
 

बता दें कि श्रीनाथ एकमात्र ऐसे भारतीय गेंदबाज रहे हैं जिन्होंने 4 वर्ल्ड कप (1192,1996,1999,2003) खेले हैं। उन्होंने अपने करियर में 67 टेस्ट मैच खेले जिसमें उन्होंने 236 विकेट लिए हैं। वहीं, 229 वनडे मैचों में उन्होंने कुल 315 विकेट झटके हैं। श्रीनाथ कपिल देव के बाद भारत के ऐसे दूसरे बल्लेबाज हैं जिन्होंने 200 विकेट लिया हो।
 

You May Also Like

English News