बड़ी खबर: आज विधानसभा में योगी सरकार पेश करेगी UPCOCA बिल…

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमें विरासत में जंगलराज मिला था। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ने अपराधों पर नियंत्रण के लिहाज से पिछली सरकार को सबसे दुर्भाग्यपूर्ण माना है। अब सत्ता के संरक्षण में कोई अपराध नहीं हो सकता। यूपीकोका लाकर अपराधियों व माफिया का इलाज किया जाएगा।बड़ी खबर: आज विधानसभा में योगी सरकार पेश करेगी UPCOCA बिल...
योगी सोमवार को विधानसभा में कानून व्यवस्था पर विपक्षी दलों के कार्यस्थगन प्रस्ताव का जवाब दे रहे थे। बसपा, कांग्रेस व सपा ने पूर्व विधायक प्रेम प्रकाश उर्फ जिप्पी तिवारी के बेटे समेत कई आपराधिक घटनाओं का उल्लेख करते हुए कानून व्यवस्था को ध्वस्त बताया।

सीएम ने कहा, पूर्व विधायक के बेटे की हत्या दुखद व दर्दनाक है। सरकार ने इसका तुरंत संज्ञान लिया है। यह मामला प्रॉपर्टी के आपसी विवाद का है। ऐसी घटनाओं में पुलिस का ज्यादा हस्तक्षेप नहीं होता। हम कार्रवाई न करें तो दोषी हैं। भाजपा सरकार बनने के बाद संगठित अपराध न्यूनतम स्तर पर है। सरकार बिना भेदभाव के सभी को सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।

सीएम ने कहा, पिछली सरकार में एक साल में 31 दंगे हुए थे जबकि नौ माह में एक भी दंगा नहीं हुआ। हमें विरासत में जैसी स्थिति मिली थी, वह जंगलराज और अराजकता की पराकाष्ठा थी। पीड़ितों की एफआईआर नहीं दर्ज होती थी, मंत्री गैंगरेप पर शर्मनाक बयान दे रहे थे। अपराधियों को संरक्षण किसी से छिपा नहीं था। अब कोई नहीं कह सकता कि भाजपा या उसके सहयोगी दलों के जनप्रतिनिधि अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं।

यूपीकोका इसीलिए ला रहे हैं कि माफिया समाप्त हो सकें। अभी हमने सहारनपुर में एक माफिया की 290 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। आगे और प्रभावी कार्रवाई करेंगे। उन्होंने विपक्ष से यूपीकोका का बिल सदन में आने पर सहयोग की अपेक्षा जताई।

कैसे रुके अपराध, साढ़े नौ सीएम चला रहे सरकार

नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा, मुख्यमंत्री की नीयत पर उन्हें शक नहीं लेकिन प्रदेश में साढ़े नौ मुख्यमंत्री सरकार चला रहे हैं। ऐसे में अपराध कैसे रुकें ? उन्होंने कहा कि योगी के अलावा दो डिप्टी सीएम, भाजपा प्रवक्ता रहे दो मंत्री, सदन से बाहर बैठे दो व्यक्ति और दिल्ली में बैठे दो लोग सरकार चला रहे हैं।

सत्ता पक्ष के एक सदस्य ने पूछा कि आधा सीएम कौन है ? इस पर चौधरी ने कहा, वह आप हैं। उन्होंने कहा, सपा सरकार में गुंडाराज का भ्रामक प्रचार करके भाजपा सत्ता में आई। कहा, रामराज्य लाएंगे। पूछा, क्या यही रामराज्य है। बहन, बेटियों से बलात्कार हो रहे हैं, गहने छीने जा रहे हैं। सरकार में अपराध रोकने की इच्छा शक्ति नहीं है। 1952 के बाद किसी सरकार में हत्या, लूट, डकैती, बलात्कार की इतनी घटनाएं नहीं हुईं। बांदा में डकैतों ने हथियारों की पूरी दुकान ही लूट ली।

योगी संत हैं, अपराधियों को देते हैं आशीर्वाद
रामगोविंद ने कहा, अपराधी मानने लगे हैं कि योगी संत हैं, वह उनका कुछ बिगाड़ नहीं सकते। मंदिर में तो चोरी करने वाला भी जाता है और डकैती डालने वाला भी। संत सभी को आशीर्वाद देते हैं, यह उनका काम है। एक संत के राज में मां-बहनों की इज्जत सुरक्षित न रहे, इससे दुर्भाग्यपूर्ण कुछ नहीं हो सकता।

26 फीसदी बढ़ा अपराधों का ग्राफ

बसपा विधायक दल के नेता लालजी वर्मा ने कहा, भाजपा सरकार के 8 माह के कार्यकाल में अपराधों में 26 फीसदी की वृद्धि हुई है। सरकार का अपराधियों और कानून व्यवस्था पर नियंत्रण नहीं है। हजरतगंज जैसे इलाके में पूर्व विधायक के पुत्र की हत्या हो गई। कैंसर पीड़िता किशोरी से राजधानी में सामूहिक बलात्कार होता है। बलात्कार के मामले पिछले साल से 27.4 फीसदी अधिक हैं।

अपराधों में चार गुना वृद्धि
कांग्रेस के अजय कुमार लल्लू ने पूर्व विधायक के पुत्र और बिल्हौर में पत्रकार की हत्या समेत कई मामलों का जिक्र करते हुए कहा, पूरा प्रदेश अपराधियों की चरागाह बन गया है। अपराधों में चार गुना वृद्धि हुई है। गोरखपुर मंडल के गोरखपुर शहर, कुशीनगर, महराजगंज जिलों में स्वर्ण कारोबारी रोज निशाना बन रहे हैं। 

You May Also Like

English News