#BigBreaking: ठप हुआ चाइनीज मोबाइल का करोबार, बिक्री रोकने के आदेश पर PM मोदी ने खुद लगाई सरकरी मोहर

CHINA को अब तक का सबसे बड़ा झटका लगा है। CHINA के MOBILE पर बैन लगाया गया है। ये बैन भारत ने नहीं बल्कि उसके सबसे अच्छे दोस्त रूस ने लगाया है। #BigBraiking: ठप हुआ चाइनीज मोबाइल का करोबार, बिक्री रोकने के आदेश पर PM मोदी खुद ने लगाई सरकरी मोहर

जी हां अब रूस में एक भी चाइनीज फोन नहीं बिकेगा। CHINA की कंपनियों को बैन करने के आदेश पर हस्ताक्षर करते हुए पुतिन ने कहा कि चीन ने भारत और पूरे एशिया को अशांत किया हुआ है। भारत का पड़ोसी देश विश्व शांति समझौते को तोड़ रहा है। ऐसे में रूस का फर्ज बनता है कि वो चीन पर कार्रवाई करे। 

ये भी पढ़े: सेवा आश्रम में सन्यासी शिक्षकों को लूट और मारपीट के बाद जो किया, सुन कर दहल उठेगा किसी का भी दिल…

इससे पहले रूसी दूरसंचार प्रहरी रोस्कोम्नादजोर ने देश के इंटरनेट नियमों का पालन ना करने के लिए चीन के लोकप्रिय मोबाइल कंपनियों ओपो और वीवो को बैन कर दिया गया है। इसके साथ है मैसेंजर एप वी चैट को भी बैन किया है।

साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट ने शऩिवार को अपनी खबर में बताया कि रोस्कोम्नादजोर ने प्रतिबंधित वेबसाइटों की सूची में वीचैट को डाल दिया. टेनसेंट टेक्नोलॉजी ने यह ऐप बनायी है।

ये भी पढ़े:#मानसून सत्र: राहुल गांधी की कार पर पथराव और चंडीगढ़ छेड़छाड़ मामले को लेकर होगा जमकर बवाल

शेनजेन स्थित कंपनी ने एक संक्षिप्त बयान में कहा, ‘टेनसेंट को इस कदम की जानकारी है और हम मामले को लेकर रूसी अधिकारियों से बात कर रहे हैं।’ कंपनी ने कहा कि रूस में इंटरनेट सेवा प्रदाताओं के लिए संबंधित सरकारी निकायों में पंजीकरण करने की जरूरत होती है लेकिन इस मुद्दे को लेकर टेनेसेंट की ‘एक अलग समझ थी.’रोस्कोम्नादजोर के अनुसार सूचना, सूचना प्रौद्योगिकी एवं सूचना सुरक्षा संबंधी कानून के अनुच्छेद 15.4 के आधार पर ऐप तक पहुंच पर रोक लगा दी गयी।

You May Also Like

English News